Tuesday , November 24 2020
Breaking News

बिहार : भैंस पर बैठकर प्रचार करना नेताजी को महंगा पड़ा, पशु क्रूरता अधिनियम के तहत एफआईआर दर्ज

Share this

पटना. बिहार विधानसभा चुनाव के लिए चुनाव प्रचार जोरों पर है, एक-एक वोट हासिल करने के लिए उम्मीदवार जी-जान से मेहनत कर रहे हैं. इसी बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें एक नेता जी भैंस पर बैठकर प्रचार करते दिखाई दे रहे हैं.

भैंस पर बैठे नेता जी का नाम परवेज आलम है और वो राष्ट्रीय उलेमा काउंसिल के प्रत्याशी हैं, गया शहरी क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे हैं, हालाँकि परवेज आलम को भैंस पर बैठकर चुनाव प्रचार करना महंगा पड़ गया ही, पुलिस ने उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, राष्ट्रीय उलेमा काउंसिल के प्रत्याशी परवेज आलम के खिलाफ सिविल लाइन थाने में पशु क्रूरता अधिनियम के साथ-साथ सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों के पालन न करने का केस दर्ज हो गया है. आलम से पूछा गया कि वो भैंस पर बैठकर प्रचार क्यों कर रहे थे तो उन्होनें कहा कि महंगी गाड़ी खरीदने के लिए पैसा नहीं है. मेरे पास संपत्ति के नाम पर भैंस है. जिसके पास कार होती है वो कार पर प्रचार करता है मेरे पास भैंस है तो मैं भैंस पर कर रहा हूं.

Share this

Check Also

बार-बार सर्दी जुकाम की वजह साइनस तो नहीं? अपनाएं ये आयुर्वेदिक नुस्खे

सर्दी के मौसम में सर्दी-जुकाम होना आम है लेकिन एक या दो हफ्ते तक भी ...