Saturday , September 26 2020
Breaking News

सैग खेलों में भारत का दबदबा, गोल्‍ड का लगाया शतक, पदक तालिका में टॉप पर

Share this

काठमांडू: भारत ने शनिवार को 13वें दक्षिण एशियाई खेलों के छठे दिन तैराकों और पहलवानों के दमदार प्रदर्शन के बूते पदक तालिका में दबदबा कायम रखा जिसमें वह स्वर्ण पदक के शतकों से 200 का आंकड़ा पार करने में कामयाब रहा. भारतीयों ने शनिवार को 29 स्वर्ण सहित कुल 49 पदक अपनी झोली में डाले जिससे भारत ने मेजबान नेपाल को काफी पीछे कर दिया है. पदक तालिका में भारत 110 स्वर्ण, 69 रजत और 35 कांस्य से कुल 214 पदक लेकर शीर्ष पर है. नेपाल 142 पदक (43 स्वर्ण, 34 रजत और 65 कांस्य) से दूसरे स्थान पर है.

श्रीलंका 30 स्वर्ण, 57 रजत और 83 कांस्य से कुल 170 पदक लेकर तीसरे स्थान पर चल रहा है. शनिवार को तैराकों ने भारत को सात स्वर्ण, एक रजत और एक कांस्य पदक दिलाया जिससे उन्होंने फिर से पूल में दबदबा बरकरार रखा.

श्रीहरि नटराज (100 मीटर बैकस्ट्रोक), ऋचा मिश्रा (800 मीटर फ्रीस्टाइल), शिवा एस (400 व्यक्तिगत मेडले), माना पटेल (100 मीटर बैकस्ट्रोक), चाहत अरोड़ा (50 मीटर बैकस्ट्रोक), लिकिथ एसपी (50 मीटर ब्रेस्टस्ट्रोक) और रुजुता भट्ट (50 मीटर फ्रीस्टाइल) ने पहला स्थान हासिल किया.

एक वी जयवीना (50 मीटर ब्रेस्टस्ट्रोक) और रिद्धिमा वीरेन्द्रकुमार (100 मीटर बैक स्ट्रोक) ने क्रमशः रजत और कांस्य पदक जीते. इससे भारत की तैराकी स्पर्धा में पदकों की संख्या 30 तक पहुंच गयी. पहले दो दिन तैराकों ने कुल 21 पदक हासिल किये.

भारतीय पहलवानों ने भी टूर्नामेंट की शुरुआत शानदार तरीके से की जिन्होंने शुरुआती दिन चार स्वर्ण पदक जीते. सत्यव्रत कादियान (पुरुषों की 97 किग्रा फ्रीस्टाइल), सुमित मलिक (पुरुषों की 125 किग्रा फ्रीस्टाइल), गुरशनप्रीत कौर (महिला 76 किग्रा) और सरिता मोर (महिला 57 किग्रा) सभी ने अपनी स्पर्धाओं में स्वर्ण जीता.

Share this

Check Also

सुलतानपुर में पत्रकार की बेटी को जिंदा जलाने वाले दो जेल भेजे गये

सुलतानपुर. उत्तर-प्रदेश में सुलतानपुर के बल्दीराय इलाके में पत्रकार प्रदीप सिंह की बेटी को जिंदा जला ...