Thursday , August 6 2020
Breaking News

जो कभी सुशांत सिंह राजपूत से नहीं मिले वो आज इस मामले में बहस कर रहे है-सोनू सूद

Share this

मुंबई. एक्टर सोनू सूद ने कहा है कि सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के बाद बॉलीवुड का एक बड़ा वर्ग इसका फायदा उठाना चाहता है. सुशांत के असामयिक निधन के बारे में बात करते हुए उन्होने बिना नाम लिए कंगना रनौत पर निशाना साधा और कहा कि जो लोग जिंदा रहते हुए एक बार भी सुशांत से नहीं मिले, वे इस मुद्दे पर बहस करना चाहते हैं.

कंगना ने इस बात को स्वीकार किया था कि वह कभी भी सुशांत सिंह राजपूत से नहीं मिली और न कभी उनसे बात की है. वह मणिकर्णिका में अपनी को-स्टार रहीं अंकिता लोखंडे से सुशांत के बारे में जानकारी लेती थीं. अंकिता 6 सालों तक सुशांत के साथ रही है.

सोनू ने टीवी चैनल के इंटरव्यू में ये बात कही हैं कि कंगना की फिल्म मणिकर्णिका-द क्वीन ऑफ झांसी में सोनू सूद को भी कास्ट किया गया था. 45 दिन की शूटिंग करने के बाद सोनू ने यह फिल्म छोड़ दी. खफा होकर कंगना ने कहा कि सोनू एक महिला डायरेक्टर के नीचे काम नहीं करना चाहते है हालांकि सोनू ने कंगना की इस बात को झूठा बताया है और कहा कि कंगना ने उनका रोल काटकर छोटा कर दिया था जिसके कारण उन्होंने खुद को फिल्म से अलग कर लिया.

सुशांत की मौत के बाद कंगना लगातार फिल्म इंडस्ट्री में नेपोटिजम और गुटबाजी की बात कर रही हैं. उन्होंने दावा किया कि फिल्ममेकर्स और डायरेक्टर्स की गुटबाजी के कारण सुशांत डिप्रेशन में आ गए थे. सुशांत की आत्महत्या मामले की जांच कर रही मुंबई पुलिस ने कंगना से पूछताछ के लिए सम्मन जारी किया है. पुलिस इस हफ्ते के अंत तक करण जौहर से भी इस मामले में पूछताछ कर सकती है.

पुलिस ने 35 से अधिक लोगों के दर्ज किए हैं बयान

14 जून को सुशांत की लाश उनके बांद्रा स्थित अपार्टमेंट में मिली थी. उनकी आत्महत्या के मामले की जांच मुंबई पुलिस कर रही है.  पुलिस ने इस मामले में 35 से अधिक लोगों के बयान दर्ज किए है. कंगना ने सोशल मीडिया पर शेयर किए वीडियो में सुशांत की मौत को सुनियोजित हत्या बताया था.

उन्होंने आरोप लगाया था कि, सुशांत को फिल्म इंडस्ट्री से बाहर करने और उनकी उपलब्धियों को नजरअंदाज करने के लिए उसे साइडलाइन कर दिया गया था. उन्होंने कुछ लैपडॉग जर्नलिस्ट पर भी अंगुली उठाई थी, जो उनके खिलाफ ब्लाइंड आइटम यानी निराधार खबरें लिख रहे थे और उन्हें अपनी खबरों में विक्षिप्त और ‘व्यसनी के रूप में चित्रित कर रहे थे.

Share this

Check Also

राहुल गांधी ने कहा- घृणा और क्रूरता से प्रकट नहीं हो सकते मर्यादा पुरषोत्तम श्रीराम

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अयोध्या में भगवान राम मंदिर का शिलान्यास करने के ...