Tuesday , July 16 2019
Breaking News

फेसबुक का सिक्योरिटी सिस्टम फिर साबित हुआ वीक, करोड़ों यूजर्स का डाटा हुआ लीक

Share this

नई दिल्ली। फेसबुक बीते कुछ साल से अपने यूजर्स के लिए एक तरह से फेकबुक साबित होता जा रहा है क्योंकि फेसबुक के यूजर्स का डाटा लीक होना आम बात हो गई है। दरअसल अब सिक्योरिटी रिसर्चर्स ने फेसबुक के करोड़ों यूजर्स के डाटा लीक का खुलासा किया है। जो कि बेहद ही चौंकाने वाला है। क्योंकि लीक हुई जानकारी में फेसबुक यूजर्स के फ्रेंड्स की लिस्ट भी है।

गौरतलब है कि सिक्योरिटी फर्म अपगार्ड ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा है कि फेसबुक यूजर्स के करीब 54 करोड़ रिकॉर्ड्स (डाटा) थर्ड पार्टी पब्लिक सर्वर पर अपलोड किए गए हैं । इतना ही नही बल्कि अपगार्ड की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि फेसबुक के 54 करोड़ डाटा दो थर्ड पार्टी कंपनियों ने अमेजन के सर्वर पर अपलोड कर दिए हैं।

बताया जा रहा है कि अमेजन के सर्वर पर अपलोड डाटा में फेसबुक के यूजर्स की पूरी प्रोफाइल की जानकारी है। गौर करने वाली बात यह है कि सर्वर पर यूजर्स के लाइक, कॉमेंट और पासवर्ड भी स्टोर किया गया है और यह पब्लिक सर्वर है जिसे कोई भी आसानी से डाउनलोड कर सकता है।

इसके साथ ही इस रिपोर्ट के मुताबिक एक कंपनी ने 146 जीबी डाटा स्टोर किया है जिनमें यूजर्स के नाम, लाइक्स और कॉमेंट्स समेत कई जानकारियां शामिल हैं। वहीं दूसरी कंपनी ने 22 हजार लोगों का डाटा स्टोर किया है। हालांकि अभी तक यह साफ नहीं हो पाया है कि इस डाटा लीक से कितने फेसबुक यूजर्स की जानकारी लीक हुई है।

इसके अलावा अपगार्ड ने यह भी कहा है कि डाटा लीक करने वाली कंपनियों ने इस पर कोई बयान नहीं दिया है और ना ही डाटा को सर्वर से हटाया है, हालांकि टेक क्रंच की रिपोर्ट के मुताबिक फेसबुक ने अमेजन से अपने सर्वर से डाटा हटाने को कहा है। हालांकि वहीं फेसबुक ने यह भी कहा है कि डाटा लीक होने का कोई सबूत अभी तक सामने नहीं आया है।

Share this

Check Also

लोकसभा चुनाव में हार के बाद पार्टी नेताओँ पर बरसे मुलायम

लखनऊ! लोकसभा चुनाव में मिली हार से सबक लेते हुये समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश ...