Friday , February 21 2020
Breaking News

नंगे पांव चलकर सिद्धिविनायक पहुंची स्मृति ईरानी, राहुल गांधी को हराने मांगी थी मन्नत

Share this

नई दिल्ली! लोकसभा चुनाव 2019 में उत्तर प्रदेश की अमेठी लोकसभा सीट से चुनाव जीतने वाली स्मृति ईरानी ने कांग्रेस पार्टी का किला ध्वस्त कर दिया. अमेठी सीट से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को हराने के बाद स्मृति ईरानी का बीजेपी में काफी कद बढ़ गया है. चुनावी सफर का सबसे बड़ा चुनाव जीतने के बाद मोदी सरकार की कैबिनेट मंत्री स्मृति ईरानी 14 किमी नंगे पैर चलकर सिद्धिविनायक मंदिर पहुंचीं. खास बात ये है कि स्मृति ईरानी ने इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी बल्कि उनके मंदिर पहुंचने की जानकारी उनकी खास दोस्त एकता कपूर ने दी.

एकता कपूर ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक तस्वीर साझा की है, जिसमें वे मोदी सरकार की कैबिनेट मंत्री के साथ दिखाई दे रही हैं. एकता ने तस्वीर के साथ कैप्शन में लिखा, ” 14 किलोमीटर सिद्ध‍िविनायक के बाद वाला ग्लो.” एकता कपूर ने इस धार्मिक यात्रा को लेकर जारी किए गए इस वीडियो में बताया कि स्मृति ईरानी 14 किमी नंगे पांव चलकर सिद्ध‍िविनायक मंदिर पहुंची और दर्शन किए. एकता ने जब मंत्री जी से इस धार्मिक यात्रा की वजह पूछी तो स्मृति ईरानी ने कहा कि भगवान ने उनकी मन्नत पूरी कर दी.

एकता ने शेयर किया विडियो

स्मृति के कमेंट पर एकता ने रिप्लाई करते हुए लिखा, ‘स्मृति तुम पैदल चलकर गई। यह तुम्हारी दृढ़ इच्छाशक्ति है।’ एकता ने स्मृति के साथ एक विडियो भी सोशल मीडिया पर शेयर किया, जिसमें वह कह रही हैं, ’14 किमी तक बिना जूते के सिद्धि विनायक मंदिर। ओ गॉड, मुझे यकीन नहीं हो रहा है।’ इस पर स्मृति जवाब देती हैं कि यह भगवान की मर्जी है। बता दें कि टीवी सीरियल क्योंकि सास भी कभी बहू थी के जरिए घर-घर में पहचान बनाने वाली स्मृति इरानी के शो की प्रोड्यूसर एकता कपूर ही थीं।

अमेठी में ऐतिहासिक जीत

स्मृति इरानी ने राहुल गांधी को उनके गढ़ में करीबी मुकाबले में 55120 वोटों से हराकर ऐतिहासिक जीत दर्ज की थी। गांधी परिवार के गढ़ अमेठी में 39 साल बाद परिवार के किसी सदस्य की हार हुई है। इससे पहले 1977 में संजय गांधी इस सीट से हारे थे।

Share this

Check Also

उत्तर प्रदेश का साल 2020-21 का बजट मंगलवार को पेश होगा

लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा के पिछले 13 फरवरी से शुरू हुये सत्र में राज्य का ...