Tuesday , December 10 2019
Breaking News

बाहर निकली तोंद को कुछ ही दिनों में घटा देता है पपीता

Share this

वैसे तो वेट लॉस और पेट की चर्बी जिसे तोंद भी कहते हैं घटाने के लिए वैसे तो कोई जादुई सामग्री नहीं है लेकिन कुछ फल और सब्जियां ऐसे हैं जिन्हें अगर आप अपनी डेली डायट में शामिल कर लें तो महज चंद दिनों में ही आपकी तोंद गायब हो जाएगी. ऐसा ही एक फल है पपीता जिसमें ढेर सारे ऐंटीऑक्सिडेंट, मिनरल्स और बहुत कम कैलरी होती है. पपीता में पाए जाने वाले इंजाम्स न सिर्फ वजन घटाते हैं बल्कि बैड कलेस्ट्रॉल को भी कम करते हैं. यहां जानें, पपीता को कैसे खाना है ताकि पेट की चर्बी हो जाए कम…

वजन घटाने से ज्यादा जरूरी है कि वजन कुछ इस तरीके से घटाया जाए ताकि हमारे शरीर में पोषण की कमी न हो. पपीते के बहुत से गुण ऐसे हैं, जिसके जरिए आप शरीर पर जमा चर्बी को कम कर सकते हैं और आपकी बॉडी को तेजी से ठीक होने में मदद कर सकते हैं. इसके साथ ही ये आपको फायदेमंद पोषण भी प्रदान करते हैं.

वजन घटाने में जो चीज सबसे ज्यादा मदद करती है, वह है पपीते के भीतर पाए जाने वाले बीज. पपीते शरीर की पाचन प्रक्रिया को सुचारू रूप से काम करने के लिए पर्याप्त फाइबर की आपूर्ति करता है. आयुर्वेदाचार्य डॉ सीएम पांडेय कहते हैं, पपीते का काले रंग का छोटा-छोटा बीज शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने का काम करता है और मेटाबॉलिज्म को नियंत्रित करता है.

अगर आप वजन घटाने के लिए वास्तव में पपीते का प्रयोग करना चाह रहे हैं तो जरूरी है कि पपीता को सही अंतराल पर खाया जाए इसलिए पपीता डायट उन लोगों के लिए बहुत फायदेमंद है, जो डिटॉक्सिफिकेशन और फैट घटाने की कोशिश में जुटे हैं.

सुबह के वक्त किंग साइज नाश्ता करने से यह पक्का हो जाता है कि आपको दोपहर के भोजन से पहले भूख नहीं लगेगी. अगर आप सुबह का नाश्ता हेल्दी करते हैं तो आप एक गिलास मलाई निकला हुआ दूध और एक बड़ा कटोरा पपीता खा सकते हैं. लंच के लिए आप साबुत अनाज या उबली हुई सब्जियों का चुनाव कर सकते हैं. इसके साथ आप एक गिलास पपीते का जूस पी सकते हैं. आप चाहें तो पपीते को काटकर स्मूदी भी बना सकते हैं. अक्सर रात को कम या फिर हल्का खाना खाने की सलाह दी जाती है. रात को खाने में सूप एक अच्छा विकल्प है. ताजा पपीता खाना आपकी डायट में मीठे का काम कर सकता है.

Share this

Check Also

अब ट्रेन के अपर बर्थ में चढऩा होगा आसान, आईआईटी कानपुर ने बनाई खास सीढ़ी

कानपुर. भारत में ज्यादातर लोग सफर करने के लिए ट्रेन का इस्तेमाल करते हैं. ट्रेनों ...