Friday , April 10 2020
Breaking News

एशियाई चैंपियनशिप में भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन: जितेन्द्र को रजत, राहुल और दीपक ने जीता कांस्य पदक

Share this

नई दिल्ली. भारत के जितेंद्र ने यहां इंदिरा गांधी स्टेडियम के केडी जाधव कुश्ती हॉल में सीनियर एशियाई कुश्ती प्रतियोगिता के अंतिम दिन रविवार को 74 किग्रा फ्री स्टाइल वर्ग में रजत पदक हासिल किया जबकि राहुल अवारे ने 61 किग्रा और दीपक पुनिया ने 86 किग्रा में कांस्य पदक जीता.

भारत ने एशियाई चैंपियनशिप में अब तक अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया. भारत ने प्रतियोगिता में पांच स्वर्ण, छह रजत और नौ कांस्य सहित 20 पदक जीते. ग्रीको रोमन शैली में एक स्वर्ण और चार कांस्य सहित कुल पांच पदक तथा महिला पहलवानों ने तीन स्वर्ण, दो रजत और तीन कांस्य सहित आठ पदक जीते तथा फ्री स्टाइल पहलवानों ने एक स्वर्ण, चार रजत और दो कांस्य पदक जीते.

भारत ने 2017 में इस प्रतियोगिता की दिल्ली में मेजबानी की थी और तब एक स्वर्ण, पांच रजत और चार कांस्य सहित कुल 10 पदक जीते थे. लेकिन इस बार भारत ने प्रतियोगिता के इतिहास का अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर डाला. चीन में 2019 में हुई पिछले चैंपियनशिप में भारत ने एक स्वर्ण, छह रजत और नौ कांस्य सहित कुल 16 पदक जीते थे.

दो बार के ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार के 74 किग्रा वर्ग के प्रबल प्रतिद्वंद्वी जितेंद्र फाइनल में पहुंचे लेकिन उन्हें रजत पदक से संतोष करना पड़ा. जितेंद्र के रजत पदक जीतने के साथ उनके ओलंपिक ट्रायल टूर्नामेंट में उतरने की संभावना मजबूत हो गयी है. जितेंद्र को पिछले वर्ष विश्व चैंपियनशिप के लिए हुए ट्रायल में सुशील से हार का सामना करना पड़ा था. सुशील विश्व चैंपियनशिप के पहले ही राउंड में बाहर हो गए थे.

सुशील चोट के कारण एशियाई चैंपियनशिप के ट्रायल में नहीं उतरे थे और जितेंद्र के रजत जीतने से सुशील की संभावनाएं धूमिल हो गयी हैं. प्रतियोगिता के अंतिम दिन पुरुष फ्रीस्टाइल वर्ग में 61, 74, 86, 92 और 125 किग्रा वर्ग के मुकाबले हुए जिसमें केवल जितेंद्र ही फाइनल में पहुंचने में कामयाब रहे.

जितेंद्र ने क्वालीफिकेशन में थाईलैंड के परिनिया चमनांजन को 10-0 से, क्वार्टरफाइनल में ईरान के मुस्तफा हुसैनखैनी को 2-2 से और सेमीफाइनल में मंगोलिया के सुमियाबजर जंदानबद को 2-1 से पराजित किया. जितेंद्र का फाइनल में कजाकिस्तान के दानियार कैसानोव से मुकाबला हुआ जिसमें उन्हें नजदीकी मुकाबले में 1-3 से हारकर रजत से संतोष करना पड़ा. जितेंद्र पहले राउंड में 1-2 से पीछे थे और कैसानोव ने दूसरे राउंड में एक अंक जुटाकर स्वर्ण पदक अपने नाम किया.

61 किग्रा में राहुल अवारे सेमीफाइनल में किर्गिजिस्तान के उलूकबेक झोलदोवशबेकोव से 3-5 से पराजित हो गए लेकिन कांस्य पदक मुकाबले में उन्होंने ईरान के माजिद दस्तान को 5-2 से हराकर कांसा जीत लिया. विश्व चैंपियनशिप के रजत विजेता दीपक पुनिया को एशिया चैंपियनशिप में कांस्य पदक मिला.

टोक्यो ओलंपिक का कोटा हासिल कर चुके दीपक 86 किग्रा वर्ग के सेमीफाइनल में जापान के शुतारो यामादा से 1-4 से हार गए और दीपक ने कांस्य पदक मुकाबले में इराक के अब्दुलसलाम अल ओबैदी को पहले ही राउंड में 10 अंक बटोर कर करारी शिकस्त दे दी और कांस्य जीता. 92 किग्रा में सोमवीर क्वार्टरफाइनल में उजबेकिस्तान के अजीनियाज सपारनियाजोव से 0-10 से हार गए जबकि 125 किग्रा में सतेंदर को ताजिकिस्तान के फर्खोद अनाकुलोव ने रेपेचेज में 12-1 से हरा दिया.

Share this

Check Also

पीएम मोदी के दो ट्विट से मची हलचल, कहा- यह मुझे विवादों में घसीटने की खुराफात है

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कुछ देर पहले एक के बाद एक दो ट्विट ...