Monday , April 22 2024
Breaking News

कई राज्यों में कोरेगांव हिंसा और मोदी की हत्या की साजिश को लेकर हुईं ताबड़तोड़ गिरफ्तारियां

Share this

नई दिल्ली। देश भर में आज माओवादियों के संपर्क और मदद पहुंचाने के शक में महाराष्ट्र पुलिस ने काफी बड़ी कारवाई करते हुए अलग अलग राज्यों से पांच लोगों की सनसनीखेज तरीके से गिरफ्तार किया गया है। जिन पर कोरेगांव हिंसा समेत प्रधानमंत्री मोदी की हत्या की साजिश में शामिल होने की आशंका भी जताई जा रही है। इतना ही नही गिरफ्तार किये गये लोगों में प्रोफेसर, पत्रकार और मानवाधिकार कार्यकर्ता शामिल हैं।

जानकारी के मुताबिक कोरेगांव हिंसा समेत हत्या की साजिश के मामले में हैदराबाद, मुंबई और दिल्‍ली में छापेमारी की गई। पुलिस ने हैदराबाद से पत्रकार गौतम नवलखा को गिरफ्तार किया है, जो कि बिजनेस न्यूज पेपर से जुड़े थे। इसके अलावा माओवादी समर्थक वरवरा राव को गिरफ्तार किया गया है। ह्यूमन राइट्स एक्टिविस्‍ट सुधा भारद्वाज को हिरासत में लिया गया है। इसके अलावा मुंबई से वरनन गोंजालविस को भी गिरफ्तार किया गया। माओवादी समर्थक अरुण फरेरा को भी उनके घर पर छापेमारी के बाद गिरफ्तार कर लिया गया है।

यह मामला पहली बार उस वक्‍त सामने आया था जब पुणे पुलिस ने भीमा कोरे गांव हिंसा मामले की जांच कर रही थी। जांच के दौरान पुणे पुलिस ने 5 लोगों को पहले ही गिरफ्तार कर लिया था। इन पर प्रतिबंधित भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी) से संबंध रखने का आरोप है। पुलिस को आरोपियों में से एक के घर से चिट्ठी मिली है, जिसमें इस बात का जिक्र है कि माओवादी ‘एक और राजीव गांधी हत्याकांड’ की योजना बना रहे हैं।

बरामद चिट्ठी में लिखा, ‘पीएम मोदी का पूरे देश में बढ़ता दायरा हमारी पार्टी के लिए बड़ा खतरा है। मोदी लहर का फायदा उठाते हुए बीजेपी देश के 15 से ज्यादा राज्यों में सरकार बनाने में सफल रही है। ऐसे में पीएम मोदी के खात्मे के लिए सख्त कदम उठाने ही होंगे। हम सोच रहे हैं कि राजीव गांधी हत्याकांड की तरह इसे भी अंजाम दिया जाए ताकि देखने में यह आत्महत्या या दुर्घटना जैसा लगे। एक और राजीव गांधी हत्याकांड को अंजाम देने के लिए पीएम के रोड शो को टारगेट किया जा सकता है।’

दिल्‍ली में रोना विल्‍सन के घर से मिली चिट्ठी में एम-4 राइफल और गोलियां खरीदने के लिये आठ करोड़ रुपए की जरूरत की बात भी लिखी मिली। पुलिस ने दिसंबर में एलगार परिषद और इसके बाद जिले में भीमा-कोरेगांव हिंसा से संबंधित दलित कार्यकर्ता सुधीर धावले, वकील सुरेंद्र गाडलिंग, कार्यकर्ता महेश राउत, शोमा सेन और रोना विलसन को मुंबई, नागपुर एवं दिल्ली से गिरफ्तार किया था।

Share this
Translate »