Monday , April 22 2024
Breaking News

रेलवे प्रशासन होता फेल, फिर एक रेल हुई डिरेल

Share this

लखनऊ। एक तरफ त्योहारों का मौसम और लोगों की आवाजाही का बढ़ना और ऐसे में रेलों का पटरी से उतरना खतरनाक ही नही बल्कि बेहद ही गंभीर संकेत है। दरअसल अभी कल ही उत्तर प्रदेश के रायबरेली में न्यू फरक्का एक्सप्रेस के डिब्बों के बेपटरी होने से हुए हादसे से हालात सामान्य भी नही हो सके थे कि आज फिर गोरखपुर के डोमिनगढ़ स्टेशन पर काठगोदाम से हावड़ा जा रही बाघ एक्सप्रेस (ट्रेन नंबर 13020) पटरी से उतर गई। इस वजह से डोमिनगढ़ से जगतबेला के बीच डाउन लाइन बाधित हो गई है।

जानकारी के मुताबिक  दोपहर करीब एक बजे बाघ एक्सप्रेस डोमिनगढ़ स्टेशन पास कर रही थी तभी यार्ड में इंजन से पीछे वाले एसएलआर कोच के चार पहिए पटरी से उतर गए। अन्य बोगियां पटरी पर ही हैं। सभी यात्री सुरक्षित बताए जाते हैं। मौके पर रेल अधिकारी और कर्मचारी पहुंच गए है। कोच को पटरी पर लाने का प्रयास शुरू हो गया है।  वहीं इसके चलते ट्रेनें जहां की तहां खड़ी हैं। हालांकि किसी के हताहत होने की खबर नहीं है।

बताया जाता है कि हादसा लगभग एक बजे हुआ है।  हादसे की वजह से इस लाइन से होकर गुजरने वाली ट्रेनों का आवागमन प्रभावित हुआ है।  रेलवे ने जगतबेला और डोमिनगढ़ रेल लाइन के बीच रूट को चालू करने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया है।  इस बीच उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने हादसे पर संज्ञान लिया है. उन्होंने डीएम और एसएसपी को घटनास्थल पर जाने का निर्देश दिया है।

ज्ञात हो कि उत्तर प्रदेश में ये लगातार दूसरे दिन रेल हादसा है।  बुधवार (10 अक्टूबर) को भी रायबरेली में न्यू फरक्का एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त हो गई थी. हादसे में इस ट्रेन की 9 बोगियां पटरी से उतर गईं थी।  दुर्घटना में 7 लोगों की मौत हो गई थी।  इस घटना में मारे गये लोगों परिजनों को सीएम योगी आदित्यनाथ ने 2 लाख रुपये का मुआवजा देने का ऐलान किया था।  जबकि घायलों को 50 हजार रुपये देने की घोषणा की थी।

Share this
Translate »