Monday , April 22 2024
Breaking News

वैष्णो देवी मंदिर का सफर होगा आसान, जल्द ही शुरू होगा रोप-वे

Share this

जम्मू! वैष्णो देवी मंदिर जाने वाले यात्रियों का सफर अब और आसान होने वाला है. वहां भवन से भैरो मंदिर जाने के लिए जल्द ही रोप-वे सेवा शुरू होने वाली है. जिसके लिए सभी तैयारियां पूरी की जा चुकी हैं. भवन से भैरो घाटी की दूरी ज्यादा नहीं लेकिन तीखी चढ़ाई की वजह से सभी भक्त वहां नहीं पहुंच पाते. लेकिन रोप-वे सेवा शुरू होने के बाद वहां जाना आसान हो जाएगा.

श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड की महत्वपूर्ण भवन से भैरो घाटी रोपवे परियोजना 2013 में इसका काम शुरू हुआ था.  इस सेवा के शुरू होने के बाद  यात्री महज चंद मिनटों में भवन से भैरो घाटी पहुंच जाएंगे. बता दें, भवन से भैरो घाटी की दूरी 1.5 किलोमीटर है. मुश्किल चढ़ाई की वजह से यात्रियों के लिए भैरो घाटी पहुंचना तकलीफदेह होता है. भूस्खलन व बर्फबारी के दौरान फिसलन की वजह से भक्तों का भैरो घाटी पहुंचना संभव नहीं होता था. एक सर्वे के मुताबिक मां वैष्णो देवी के दर्शनों को आने वाले श्रद्धालुओं में से 30 से 40 फीसद भक्त ही भैरो घाटी पहुंच पाते हैं.

रोप वे सेवा से खासतौर पर बुजुर्ग और दिव्यांग यात्रियों को बड़ी राहत मिलेगी. वैष्णो देवी के दर्शन के लिए उम्मीद की जा रही है कि रोप वे सेवा शुरू होने के बाद यात्रियों की संख्या और बढ़ेगी. भारतीय रेल ने वैष्णो देवी की यात्रा करने वाले यात्रियों के लिए खास तरह का इकॉनमी पैकेज लेकर आया है. इस पैकेज में नई दिल्ली से वैष्णो देवी तक के टूर पैकेज की क़ीमत एक आदमी के लिए 2,490 रुपए रखी गई है. जिसमें ट्रेन के स्लीपर क्लास के किराए के साथ नाश्ता और ठहरने की सुविधा भी मिलेगी.

पैकेज में दिल्ली से कटड़ा और फिर कटड़ा से वापस दिल्ली की ट्रेन यात्रा का ख़र्च शामिल होगा. वैष्णो देवी जाने वाले यात्रियों को कटड़ा में IRCTC के गेस्ट हाउस में ठहराया जाएगा. कटड़ा से बाणगंगा तक पहुंचाने और वहां से वापस लाने की सुविधा भी रेलवे ही देगा. इस पैकेज में 5-11 साल के बच्चे को भी पैकेज की पूरी कीमत देनी होगी क्योंकि बच्चे को भी पूरी सीट मिलेगी. यात्रियों के कटरा में बाणगंगा तक छोड़ा जाएगा और वहीं से पिक-अप भी किया जाएगा. यहीं से वैष्णों देवी मंदिर की पैदल यात्रा शुरू होती है.

Share this
Translate »