Monday , April 22 2024
Breaking News

एनआईए और एटीएस की जारी छापेमारी में हुई अब मदरसे के मौलवी की गिरफ्तारी

Share this

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में जमती आईएसआईएस के मॉड्यूल हरकत-उल-हर्ब-ए-इस्लाम की जड़ों को बखूबी एनआईए और एटीएस द्वारा खोदने का काम बखूबी जारी है। इसी क्रम में अब एक बार फिर एक अहम छापेमारी को अंजाम देते हुए एनआईए और एटीएस की टीमों ने एक मदरसे के मौलवी को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है। जो कि इस आतंकी मॉड्यूल के लिए काम करता था।

गौरतलब है कि आज शनिवार आईएसआईएस-प्रेरित आतंकी ग्रुप के खिलाफ अपनी जांच के सिलसिले में एनआईए ने गाजियाबाद से एक शख्स को गिरफ्तार किया है। आरोपी की पहचान मोहम्मद अबसार (24 वर्षीय) के रूप में हुई है। यह संग‍ठन कथित तौर पर दिल्ली और उत्तर भारत के दूसरे हिस्सों में आत्मघाती हमले और बम धमाकों के साथ ही राजनेताओं और सरकारी प्रतिष्ठान को निशाना बनाने की साजिश रच रहा था।

शनिवार को सुबह करीब चार बजे मेरठ के थाना मंडावली के गांव जरोड़ा निवासी मौलवी अबसार की निशान देही पर हापुड़ के धौलाना थाना के गांव पिपलैड़ा निवासी 20 वर्षीय शहजाद पुत्र ताहिर के घर पर एटीएस और एनआईए समेत स्थानीय पुलिस की टीम में शामिल करीब 70 लोग की छापेमारी से गांव और क्षेत्र में हड़कंप मच गया। जांच टीम ने उसके घर से मौलवी द्वारा दिए गए दस्तावेजों को बरामद कर लिया और फिर इसके बाद शहजाद को साथ लेकर दिल्ली के लिए रवाना हो गई।

ज्ञात हो कि जांच एजेंसी ने शनिवार को इस हालिया गिरफ्तारी के सिलसिले में मेर‍ठ, हापुड़ और गाजियाबाद में छापेमारी भी की। एजेंसी के प्रवक्ता ने कहा कि मोहम्मद अबसार (24) को शुक्रवार की रात एनआईए ने हापुड़ से गिरफ्तार किया। इस गिरफ्तारी के साथ ही एनआईए इस सिलसिले में अबतक 12 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है।

उन्होंने कहा कि अबसार मेरठ जिले के जसोरा का रहने वाला है और गाजियाबाद के पिपलेरा इलाके में एक मदरसे जामिया हुसैनिया अबुल हसन में पढ़ाता था। प्रवक्ता ने कहा कि अबसार आतंकी साजिश के एक और आरोपी इफ्तेखार साकिब के साथ 2018 के मई और अगस्त के महीने में जम्मू-कश्मीर में तीन जगहों पर गया था। उन्होंने कहा कि उसे यहां विशेष एनआईए अदालत के समक्ष पेश किया जाएगा और उसकी हिरासत मांगी जाएगी।

Share this
Translate »