Tuesday , November 30 2021
Breaking News

जनप्रिय नेता हुकुम सिंह को CM योगी ने दी श्रद्धांजलि

Share this

शामली। ​ सीएम योगी आदित्यनाथ ने आज यहां पहुच कर हुकुम सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित की। सीएम योगी प्रदेश के मंत्री सुरेश राणा के साथ पहुचे हैं। गौरतलब है कि कैराना सांसद हुकुम सिंह का मल्टी ऑर्गन फेल होने से शनिवार को निधन हो गया था। अस्पताल के एक डॉक्टर के मुताबिक 79 वर्षीय नेता हुकुम सिंह तकरीबन एक महीने से अस्पताल में भर्ती थे। सांसद का अंतिम संस्कार कैराना में किया जाएगा।

वह कैराना सीट से निर्वाचित हुए थे। उनकी 5 बेटियां है। सिंह यूपी से 7 बार विधायक रहे और 2014 के चुनावों में लोकसभा में प्रवेश से पहले राज्य में मंत्री थे।
वहीं सांसद के निधन की खबर सुनते ही जनपदवासियों में शोक की लहर दौड़ पड़ी है। घर पर समर्थकों का पहुंचना शुरू हो गया। मायापुर फार्म हाउस पर अपने प्रिय नेता के अंतिम दर्शनों के लिए लोगों का जमावड़ा लग गया है।
बीजेपी सांसद हुकुम सिंह साल 2013 में हुए मुजफ्फरनगर दंगे के दौरान चर्चा में रहे। उन पर कथित तौर पर भड़काऊ बयान देने के आरोप लगे। कैराना से पलायन का मुद्दा उठाकर भी वह चर्चा में आए। वह प्रदेश में एनडी तिवारी, राजनाथ सिंह, कल्याण सिंह व मायावती की सरकारों में मंत्री रहे थे। वर्तमान में वह कैराना से बीजेपी सांसद थे। वर्तमान में सांसद बनने के बाद लोकसभा स्पीकर की संसदीय समिति में सदस्य के साथ ही भारत सरकार के जल बोर्ड समिति के अध्यक्ष भी थे।  वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनके निधन पर शोक प्रकट करते हुए ट्विटर पर लिखा कि सांसद और उत्तर प्रदेश के वरिष्ठ नेता हुकुम सिंह जी के निधन से दुखी हूं। उन्होंने पूरी निष्ठा के साथ उत्तर प्रदेश के लोगों की सेवा की और किसानों के कल्याण के लिए काम किया। दुख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिवार और समर्थकों के साथ है।
साथ ही भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि सिंह के निधन से पार्टी को अर्पूणीय क्षति हुई है। उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भाजपा नेता के निधन पर शोक प्रकट किया है। एक ट्वीट में संसदीय मामलों के राज्य मंत्री विजय गोयल ने सिंह के निधन पर शोक जताया और कहा कि भाजपा के लिए यह बड़ा नुकसान है। पिछले साल यूपी विधानसभा चुनावों के पहले उन्होंने अपने लोकसभा क्षेत्र के कुछ हिस्से और पड़ोस से हिंदुओं के कथित पलायन का मुद्दा उठाया था।

 

 

Share this
Translate »