Monday , November 29 2021
Breaking News

बिहार:पीएम मोदी ने दी 901 करोड़ की सौगात, रघुवंश प्रसाद को किया नमन

Share this

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को तय कार्यक्रम के मुताबिक बिहार ने 901 करोड़ रुपये की लागत वाली तीन बड़ी योजनाओं का उपहार दिया है. इस खास मौके पर बिहार की जनता को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने सबसे पहले बिहार के दिग्गज नेता रघुवंश प्रसाद के निधन पर उन्हें नमन किया. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा रघुवंश बाबू के जाने से बिहार और देश की राजनीति में शून्य पैदा हुआ है. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, रघुवंश जी जिन आदर्श को लेकर चले थे, जिनके साथ चले थे, उनके साथ चलना उनके लिए संभव नहीं रहा था. उन्होंने बिहार के मुख्यमंत्री जी को अपनी एक विकास के कामों की सूची भेज दी. बिहार के लोगों की, बिहार के विकास की चिंता उस चिट्ठी में प्रकट होती है.

पीएम मोदी ने कहा, कुछ वर्ष पहले जब बिहार के लिए विशेष पैकेज की घोषणा की गई थी, तो उसमें बहुत फोकस राज्य के इंफ्रास्ट्रक्चर पर था. मुझे खुशी है कि इसी से जुड़े एक महत्त्वपूर्ण गैस पाइप लाइन प्रोजेक्ट के दुर्गापुर- बांका सेक्शन का लोकार्पण करने का अवसर मुझे मिला है. इससे पहले पटना LPG प्लांट के विस्तार और स्ट्रांग कैपेसिटी बढ़ाने का काम हो. पूर्णिया के LGP प्लांट का विस्तार हो, मुजफ्फरपुर में नया LGP प्लांट हो. ये सारे प्रोजेक्ट पहले ही पूरे किए जा चुके हैं:

पीएम मोदी ने कहा जगदीशपुर-हल्दिया पाइपलाइन प्रोजेक्ट का जो हिस्सा बिहार से गुजरता है, उस पर भी काम पिछले साल मार्च में ही समाप्त कर लिया गया है. मोतीहारी अमलेखगंज पाइपलाइन पर भी पाइपलनाइन से जुड़ा काम पूरा कर लिया गया है. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, बिहार सहित पूर्वी भारत में ना तो सामर्थ्य की कमी है और ना ही प्रकृति ने यहां संसाधनों की कमी रखी है. बावजूद इसके बिहार और पूर्वी भारत विकास के मामले में दशकों तक पीछे ही रहा. इसकी बहुत सारी वजहें राजनीतिक थी और प्राथमिकताओं की कमी थीं.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, गैस बेस्ड इंडस्ट्री और पेट्रो-कनेक्टिविटी, ये सुनने में बड़े टेक्नीकल से लगते हैं लेकिन इनका सीधा असर लोगों के जीवन पर पड़ता है. गैस बेस्ड इंडस्ट्री और पेट्रो-कनेक्टिविटी रोजगार के भी लाखों नए अवसर बनाती है. उन्होंने कहा आज जब देश के अनेकों शहरों में CNG पहुंच रही है, PNG पहुंच रही है. तो बिहार के लोगों को पूर्वी भारत के लोगों को भी ये सुविधाएं उतनी ही आसानी से मिलनी चाहिए. इसी संकल्प के साथ हम आगे बढ़े.

प्रधानमंत्री ऊर्जा गंगा योजना के तहत पूर्वी भारत को पूर्वी समुद्री तट के पारादीप और पश्चिमी समुद्री तट के कांडला से जोड़ने का भागीरथ प्रयास शुरू हुआ. करीब 3 हजार किमी लंबी पाइपलाइन से 7 राज्यों को जोड़ा जा रहा है, जिसमें बिहार का प्रमुख स्थान है. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, उज्जवला योजना की वजह से आज देश के 8 करोड़ गरीब परिवारों के पास भी गैस कनेक्शन मौजूद है. इस योजना से गरीब के जीवन में क्या परिवर्तन आया है, ये कोरोना के दौरान हम सभी ने फिर महसूस किया है.

Share this
Translate »