Friday , January 28 2022
Breaking News

बिहार चुनाव – महागठबंधन में सीटें फाइनल, 144 पर आरजेडी, 70 पर कांग्रेस चुनावी लड़ेगी

Share this

पटना. बिहार चुनाव को लेकर महागठबंधन में सीट शेयरिंग का फॉर्म्युला फाइनल हो गया है. शनिवार 3 अक्टूबर को आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने सीट बंटवारे की जानकारी दी है. उन्होंने बताया कि बिहार चुनाव में आरजेडी 144 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. कांग्रेस 70 सीटों दी गई हैं. साथ ही पार्टी वाल्मीकिनगर लोकसभा सीट पर हो रहे उपचुनाव में उम्मीदवार उतारेगी. सीपीएम को 4 सीटें, सीपीआई को 6, सीपीआई माले को 19 सीटें दी गई हैं. हेमंत सोरेन की जेएमएम और वीआईपी को आरजेडी अपने कोटे से सीट देगी. 

इसी बीच सीट शेयरिंग से नाराज मुकेश सहनी की पार्टी वीआईपी के कार्यकर्ताओं ने टिकट बंटवारे को लेकर हंगामा किया है. उन्होंने तेजस्वी यादव मुर्दाबाद के नारे भी लगाए. 25 सीटों की मांग के साथ वीआईपी प्रमुख मुकेश सहनी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस का बहिष्कार किया और उठकर बाहर चले गए.

सीट बंटवारे से नाराज वीआईपी पार्टी के प्रमुख मुकेश सहनी ने कहा कि महागठबंधन के डीएनए में खोट है. दिनभर राबड़ी आवास पर बैठने के बाद उनसे यह वादा किया गया था कि 25 सीटें और उपमुख्यमंत्री पद ऑफर किया जाएगा, लेकिन प्रेस कॉन्फ्रेंस में तेजस्वी ने उनकी पीठ में खंजर भोंका है. मुकेश सहनी के मंच छोड़ते ही नाराज कार्यकर्ताओं ने जमकर की नारेबाजी. समर्थकों ने लगाए तेजस्वी यादव मुर्दाबाद के नारे.

तेजस्वी ने कहा- सभी धर्मजात के लोगों को साथ लेकर चलेंगे

तेजस्वी यादव ने कहा कि सभी धर्म जात के लोगों को साथ लेकर चलेंगे. तरक्की की राह पर चलेंगे. जो लोग 15 साल में रोजगार नहीं दे पाए उन्होंने लॉकडाउन में बेरोजगारों और लाचारों का अपमान किया. उनपर लाठी बरसाई. हर चार घंटे में बिहार में एक रेप होता है, हर पांच घंटे में एक हत्या होती है. हम ठेठ बिहारी हैं, जो वादा करते हैं उसको पूरा करते हैं. मेरा डीएनए भी काफी शुद्ध है. जब पानी एक जगह जम जाता है उससे जो बीमारी फैलती है वही हालत मौजूदा सरकार की है. बिहार को नदी के बहते जल की तरह विकल्प चाहिए.

वादा करता हूं मैं सभी के वादे पर खरा उतरूंगा-तेजस्वी

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि मैं खास तौर से सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी, सीताराम येचुरी का धन्यवाद कहना चाहूंगा कि हम लोगों ने बिहार की जनता के सामने एक सामाजिक न्याय और धर्मनिरपेक्ष विकल्प दिया है. इन सभी नेताओं ने जिस तरह से मुझ पर भरोसा रखा है मैं वादा करता हूं कि मैं सभी के वादे पर खरा उतरूंगा. बिहार की जनता बदहाल है, परेशान है, बेरोजगार है. बिहार की डबल ईंजन सरकार आईसीयू में है. 

बिहार में बदलाव के लिए बनाया गया मजबूत गठबंधन- कांग्रेस

कांग्रेस नेता अविनाश पांडेय ने कहा कि काफी सोच विचार करके बिहार में बदलाव के लिए एक मजबूत गठबंधन बनाया गया है. बिहार के विकास के लिए एक मंच पर आने का निर्णय लिया गया है. कांग्रेस नेता ने कहा कि बिहार की जनता ने 2015 में नरेंद्र मोदी और बीजेपी के खिलाफ अपना मत दिया था. लेकिन, नीतीश कुमार जनमत को धोखा देकर फिर बीजेपी के साथ सत्ता में आसीन हो गए. बिहार की जनता उन्हें माफ नहीं करेगी. नरेंद्र मोदी सरकार किसानों के साथ छल कर रही है. बिहार एक युवा प्रदेश में जहां युवाओं की संख्या अधिक है, तेजस्वी यादव युवा चेहरा हैं. लालू यादव के पुत्र तेजस्वी यादव गरीब के पुत्र और संघर्षशील नेता के रूप में जाने जाते हैं.

Share this
Translate »