Friday , January 28 2022
Breaking News

किसान आंदोलन को लेकर कनाडा के पीएम ट्रूडो ने जताई चिंता

Share this

टोरंटो. भारत में नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन जारी है. भारत में जारी किसानों के इस प्रदर्शन को लेकर कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो ने चिंता जाहिर की है. जस्टिन ट्रूडो ने इस प्रदर्शन के खिलाफ पुलिसिया इस्तेमाल पर भारत सरकार से अपनी चिंता जाहिर की है. ट्रूडो ने कहा है कि भारत में हालात चिंताजनक हैं और कनाडा हमेशा शांतिपूर्ण प्रदर्शन के अधिकार की रक्षा करेगा.

जस्टिन ट्रूडो ने कहा कि मैं किसान प्रदर्शन को लेकर भारत से आ रही खबरों पर नजर नहीं डालता तो इसके प्रति बेपरवाह ही बना रहता. हालात चिंताजनक हैं. हम सभी अपने परिवारों और दोस्तों को लेकर चिंतित हैं. मैं आप सभी को याद दिला दूं, कनाडा हमेशा शांतिपूर्ण प्रदर्शन के अधिकार की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध है. हम बातचीत की प्रक्रिया पर भरोसा करते हैं. हमने कई तरीकों से इस संबंध में भारतीय पक्ष के सामने अपनी चिंताएं जाहिर की हैं. ये हम सभी के लिए साथ खड़े रहने और एक दूसरे का साथ देने का क्षण है.

गौरतलब है कि रविवार को टोरंटो में भी भारत में जारी किसान प्रदर्शन के समर्थन में लोगों ने रैली निकाली थी. इसके अलावा ब्रिटेन की लेबर पार्टी के सांसद तनमनजीत सिंह धेसी ने किसानों को पीटे जाने का जिक्र करते हुए ट्वीट कर कहा है कि मैं हमारे परिवार और दोस्तों सहित पंजाब और भारत के अन्य हिस्सों के किसानों के साथ खड़ा हूं, जो शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन कर रहे हैं.

लेबर पाटीज़् के ही सांसद जॉन मैकडॉनेल ने कहा है कि मैं तनमनजीत सिंह धेसी से सहमत हूं. शांतिपूर्ण प्रदर्शनकारियों के खिलाफ इस तरह का दमनकारी व्यवहार अस्वीकार्य है और भारत की प्रतिष्ठा को धूमिल करता है.

सेंट जॉन्स ईस्ट से सांसद जैक हैरिस ने ट्वीट कर कहा है कि नए कानूनों का विरोध कर रहे किसानों पर भारत सरकार के दमन को देखकर हम हैरान हैं, नए कानूनों से उनकी आजीविका खतरे में पड़ जाएगी. भारत सरकार को वॉटर कैनन और आंसू गैस का इस्तेमाल करने के बजाय किसानों के साथ खुले तौर पर बातचीत करनी चाहिए.

Share this
Translate »