Thursday , January 20 2022
Breaking News

अयोध्या: कृषि विवि में 90 करोड़ की 40 परियोजनाओं सौगात, सीएम योगी बोले- न मंडी समिति खत्म होगी न ही एमएसपी

Share this

अयोध्या. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज अयोध्या पहुंचे. उन्होंने यहां कुमारगंज स्थित आचार्य नरेंद्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय में तीन दिवसीय कृषि मेले का उद्घाटन किया. साथ ही 89.90 करोड़ रुपए लागत की 40 परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया.

इस मौके पर ष्टरू योगी ने विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए कहा कि जिन्हें किसानों की प्रगति अच्छी नहीं लगती वे कृषि कानूनों पर बार-बार झूठ बोलकर उन्हें गुमराह कर रहे हैं. लेकिन मैं बता दूं कि न तो मंडी समिति खत्म होगी न ही रूस्क्क. किसानों के खेत पर भी कब्जा नहीं कर सकता है.

खेत से लेकर बाजार तक बन रही एक चेन

ष्टरू योगी ने कहा, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लक्ष्य को पूरा करने के लिए आचार्य नरेंद्र देव कृषि विश्वविद्यालय कर रहा है. देश का किसान वह सब कुछ करने में सामर्थ्य रखता है, जो देश चाहता है. इसमें कृषि वैज्ञानिकों का अहम रोल है. हमारा संकल्प था कि अन्नदाताओं का एक लाख रुपए तक के ऋण माफ करेंगे. यही कारण है कि सरकार बनते ही पहली कैबिनेट पर मुहर लगाई गई. अन्नदाता की समृद्धि का मार्ग प्रशस्त करना ही हमारा लक्ष्य है. किसान को खेत से लेकर बाजार तक एक चेन से जोडऩे की कोशिश की जा रही है. इससे किसान के जीवन में खुशहाली आएगी.

कांग्रेस ने दबा दी थी स्वामीनाथन रिपोर्ट

योगी ने कांग्रेस पर हमला बोला. कहा कि कांग्रेस ने स्वामीनाथन रिपोर्ट को दबा दिया था. लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लागू किया है. जब प्रधानमंत्री ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत दो हजार रुपए खाते में दिया तो विपक्षी दलों ने कहा कि ये शिगूफा है. लेकिन उसके बाद साल के तीन किश्त में दो-दो हजार रुपए किसानों को दिए गए. जिन्हें विकास अच्छा नहीं लगता वे गुमराह करने लगे. एक झूठ को बार-बार बोलना, देश का माहौल खराब प्रयास करने लगे हैं. लेकिन देश का किसान जागरुक है. उसे प्रधानमंत्री पर भरोसा है.

किसान हितों का पूरा ख्याल रखेगी सरकार

योगी ने कहा कि गुमराह करने के लिए ये कहना कि कृषि कानून लागू होने के बाद रूस्क्क समाप्त हो जाएगा. यह गलत है. प्रधानमंत्री ने इस बात को स्वयं दोहराया है. मंडी समिति समाप्त नहीं होगी. मंडी वैसे ही काम करेंगे. बल्कि मंडी से बाहर यदि ज्यादा कीमत मिलती है तो किसान अपनी उपज को बाहर बेच भी सकता है. उस पर कोई टैक्स नहीं लगेगा. कहा जाता है कि किसान के खेत पर कब्जा हो जाएगा. अरे भाई ये तो दो लोगों के बीच आपस का समझौता है. किसानों के खेत पर कोई कब्जा नहीं कर सकता है. कांट्रैक्ट फार्मिंग में सरकार किसानों के हितों का पूरा ख्याल रखेगी. प्रदेश में गन्ना किसानों का रिकॉर्ड भुगतान किया गया है.

चार घंटे अयोध्या दौरे पर रहे योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आचार्य नरेंद्र देव कृषि विश्वविद्यालय में पशु चिकित्सालय, कृषि विज्ञान केंद्रों के सुदृढ़ीकरण, कृषि आदि की 88.90 करोड़ की 40 परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया. इनमें 30.67 करोड़ रुपए की 10 परियोजनाओं का लोकार्पण, 26.45 करोड़ रुपए की 10 परियोजनाओं का शिलान्यास और 32.77 करोड़ रुपए की 20 परियोजनाओं का शुभारंभ शामिल है. कृषि विश्वविद्यालय में आयोजित किसान सम्मेलन में अयोध्या के अलावा अंबेडकरनगर, बाराबंकी, सुल्तानपुर, अमेठी आदि जिलों के किसान शामिल हुए.

Share this
Translate »