Thursday , January 27 2022
Breaking News

मूल्यांकन फार्मूले से असंतुष्ट 10वीं एवं 12वीं के छात्र अगस्त में दे सकेंगे लिखित परीक्षा: शिक्षा मंत्री निशंक

Share this

नई दिल्ली. 10वीं और 12वीं क्लास के कई छात्र-छात्राएं रिजल्ट को लेकर केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के मूल्यांकन फॉर्मूला से संतुष्ट नहीं हैं. CBSE इन स्टूडेंट को अगस्त में लिखित परीक्षा देने का विकल्प देगा. शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने शुक्रवार को इस बात की जानकारी दी. निशंक कोविड के बाद की जटिलताओं के चलते एम्स में भर्ती हैं.

उन्होंने अस्पताल के बेड से ही ट्विटर पर ये जानकारी शेयर की. शिक्षा मंत्री निशंक कल कक्षा 10 और कक्षा 12 की परीक्षाओं के बारे में छात्रों के सवालों का सोशल मीडिया पर जवाब देने वाले थे. लेकिन किन्हीं कारणों से इसका आयोजन नहीं हो पाया और उन्होंने एक ऑडियो मैसेज पोस्ट करते हुए अगस्त में ये लिखित परीक्षा का विकल्प देने की बात कही.

अपने मैसेज में उन्होंने कहा, 10वीं और 12वीं क्लास के जो स्टूडेंट CBSE के मूल्यांकन फॉर्मूला से संतुष्ट नहीं हैं उन्हें परेशान होने की जरुरत नहीं है. आपके लिए अगस्त में लिखित परीक्षा देने की व्यवस्था की जाएगी. साथ ही उन्होंने कहा, साथ ही जैसा की CBSE पहले ही स्पष्ट कर चुका है जो छात्र ये लिखित परीक्षा का विकल्प चुनेंगे उन्हें इसमें मिले मार्क्स को ही मानना होगा. लिखित परीक्षा देने वाले छात्र मूल्यांकन फॉर्मूला के तहत दिए गए मार्क्स देने की दोबारा मांग नहीं कर सकते.

Share this
Translate »