Saturday , January 22 2022
Breaking News

केंद्रीय कर्मचारियों को मोदी सरकार ने दिया बड़ा झटका, नहीं बढ़ाएगी बेसिक सैलरी

Share this

नई दिल्ली. महंगाई भत्ता और महंगाई राहत में इजाफे के बाद अब केंद्र सरकार कर्मचारियों के बेसपे पर किसी तरह का बदलवा नहीं करेगी.  केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री ने यह बात राज्यसभा में एक सवाल के जवाब में कही है.  विपक्ष की ओर से सवाल किया गया था कि महंगाई भत्ता और महंगाई राहत में इजाफे के बाद क्या सरकार केंद्रीय कर्मचारियों की बेसिक सैलरी में इजाफे को बढ़ाने पर विचार कर रही है, जिसका जवाब उनका ना था.

आपको बता दें कि सरकार ने महंगाई भत्ता और महंगाई राहत को 17 फीसदी से बढ़ाकर 28 फीसदी का ऐलान कर दिया गया है.  एक जुलाई से इसे लागू किया गया है.  जो कि सितंबर से मिलना शुरू हो जाएगा.  खास बात यह है कि महंगाई भत्ता कर्मचारियों के बेसिक सैलरी के आधार पर तय होता है.  ऐसे में अगर बेसिक सैलरी में बदलाव होता है तो महंगाई भत्ते की कैल्कुशन के हिसाब से जबरदस्त फायदा होगा.

बता दें कि वित्त राज्यमंत्री पंकज चौधरी ने एक लिखित सवाल के जवाब में कहा कि केंद्र सरकार कर्मचारियों की बेसिक सैलरी बढ़ाने की योजना पर काम नहीं कर रही है.  उन्होंने राज्यसभा में कहा कि 2.57 का फिटमेंट फैक्टर सभी कैटेगरी के कर्मचारियों के लिए समान रूप से केवल 7वें केंद्रीय वेतन आयोग की सिफारिशों के आधार पर रिवाइज्ड पे स्ट्रक्चर में वेतन निर्धारण के उद्देश्य से लागू हुआ था.  राज्यसभा में उनसे सवाल किया गया था कि 7वें वेतन आयोग की सिफारिशों के आधार पर फिटमेंट फैक्टर के अनुसार महंगाई भत्ता और महंगाई राहत की बहाली के बाद क्या केंद्र सरकार अब कर्मचारियों का मंथली बेसिक पे बढ़ाने पर विचार कर रही है?

Share this
Translate »