Friday , January 28 2022
Breaking News

वीवीआईपी की सुरक्षा में पहली बार तैनात होंगी महिला CRPF कर्मी, जल्‍द शुरू होगी ट्रेनिंग

Share this

नई दिल्ली. देश में पहली बार वीवीआईपी सुरक्षा के लिए सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स की महिला कर्मियों को तैनात करने की योजना तैयार की गई है. जानकारी के अनुसार जल्‍द ही सीआरपीएफ महिला कर्मियों के पहले बैच को वीवीआईपी सुरक्षा के लिए ट्रेनिंग भी दी जाने की शुरुआत होगी. इस पहले बैच में 33 महिला कर्मी होंगी.

पहले बैच की इन सभी 33 महिला सीआरपीएफ कर्मचारियों का चयन कुछ दिन पहले गृह मंत्रालय से मंजूरी मिलने के बाद किया गया है. न्‍यूज18 की ओर से जुटाई गई जानकारी के अनुसार सीआरपीएफ द्वारा महिला कर्मियों की ताकत बढ़ाने के लिए एक कार्य योजना प्रस्तुत की गई है. इसके तहत शुरुआत में सीआरपीएफ महिला कर्मियों के 6 प्लाटून तैयार किए जाएंगे.

सूत्रों के अनुसार इनकी तैनाती जरूरत के आधार पर की जाएगी, लेकिन कुछ वीवीआईपी लोगों की सुरक्षा के लिए पहले बैच से ही महिला कर्मियों की तैनाती की जाएगी. साथ ही आगामी चुनावों को देखते हुए वीवीआईपी महिलाओं को भी इस सेवा के तहत प्राथमिकता दी जाएगी. सीआरपीएफ की इन महिला जवानों को एके-47 जैसी असॉल्ट राइफल चलाने का भी प्रशिक्षण मिलेगा. सीआरपीएफ गृह मंत्री अमित शाह, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा जैसे शीर्ष कांग्रेस नेताओं सहित कई हाई-प्रोफाइल लोगों की सुरक्षा करती है.

सूत्रों ने दावा किया कि पश्चिम बंगाल चुनावों के दौरान हिंसा देखे जाने के बाद आगामी उत्तर प्रदेश चुनावों से पहले वीवीआईपी की सुरक्षा के लिए महिलाओं को शामिल करने के काम को प्राथमिकता दी गई थी. पश्चिम बंगाल चुनावों के दौरान बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा सहित कुछ नेताओं पर उनकी रैलियों और रोड शो के दौरान हमला हुआ था. वीवीआईपी पर इस तरह के हमलों की आशंका चुनावों में बनी रहती है और पांच राज्यों में अगले साल फरवरी-मार्च में चुनाव होने हैं. गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर न्‍यूज18 से इस बात की पुष्टि की है कि सीआरपीएफ से एक योजना मांगी गई थी जो मौजूदा समय में देश में सबसे अधिक वीवीआईपी व्यक्तियों को सुरक्षा प्रदान करती है.

सीआरपीएफ के एक अन्य वरिष्ठ अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर कहा, ‘गृह मंत्रालय से मंजूरी मिलने के बाद इन महिला कर्मियों को शामिल करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है. इसे चरणबद्ध तरीके से किया जाएगा. चयनित महिलाओं को पर्याप्त प्रशिक्षण मिलेगा. सूत्रों ने कहा है कि यह प्रस्ताव सीआरपीएफ के महानिदेशक कुलदीप सिंह ने गृह मंत्री अमित शाह को हाल ही में एक बैठक में दिया था, जब वह सीआरपीएफ और तत्काल भविष्य की योजनाओं की जानकारी प्रस्तुत कर रहे थे. उचित मंजूरी मिलने के बाद वीवीआईपी की सुरक्षा के लिए महिलाओं को शामिल करने का फैसला किया गया है.

Share this
Translate »