Thursday , December 2 2021
Breaking News

भ्रष्टाचार कितना भी ताकतवार हो, लोग जानते हैं हमारी सरकार किसी को नहीं छोड़ती: पीएम मोदी

Share this

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज सीबीआई और सीवीसी की संयुक्त कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने कहा, आज हम भारत की आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं. आने वाले 25 वर्ष, यानि इस अमृतकाल में आत्मनिर्भर भारत के विराट संकल्पों की सिद्धि की तरफ देश बढ़ रहा है. आज हम गुड गवर्नेंस- प्रो पीपल, प्रोएक्टिव गवर्नेंस को सशक्त करने में जुटे हैं. भ्रष्टाचार-करप्शन, छोटा हो या बड़ा, वो किसी ना किसी का हक छीनता है.

उन्होंने आगे कहा, ये देश के सामान्य नागरिक को उसके अधिकारों से वंचित करता है, राष्ट्र की प्रगति में बाधक होता है और एक राष्ट्र के रूप में हमारी सामूहिक शक्ति को भी प्रभावित करता है. आत्मनिर्भर भारत की और इशारा करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, आज देश को ये भी विश्वास हुआ है कि देश को धोखा देने वाले, गरीब को लूटने वाले, कितने भी ताकतवर क्यों ना हो, देश और दुनिया में कहीं भी हों, अब उन पर रहम नहीं किया जाता, सरकार उनको छोड़ती नहीं है. आने वाले 25 वर्ष, यानि इस अमृतकाल में आत्मनिर्भर भारत के विराट संकल्पों की सिद्धि की तरफ देश बढ़ रहा है. आज हम गुड गवर्नेंस- प्रो पीपल, प्रोएक्टिव गवर्नेंस को सशक्त करने में जुटे हैं.

‘भ्रष्टाचार सिस्टम का हिस्सा’

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘हमने देशवासियों के जीवन से सरकार के दखल को कम करने को एक मिशन के रूप में लिया. हमने सरकारी प्रक्रियाओं को सरल बनाने के लिए निरंतर प्रयास किए. मैक्सिमम गवर्नमेंट कंट्रोल के बजाय मिनिमम गवर्नमेंट, मैक्सिमम गवर्नेंस पर फोकस किया. प्रधानमंत्री ने कहा, ”न्यू इंडिया अब ये भी मानने को तैयार नहीं कि भ्रष्टाचार सिस्टम का हिस्सा है.

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘आज 21वीं सदी का भारत, आधुनिक सोच के साथ ही टेक्नोलॉजी को मानवता के हित में इस्तेमाल करने पर बल देता है.उन्होंने कहा, ‘आज देश में जो सरकार है, वो देश के नागरिकों पर ट्रस्ट करती है, उन्हें शंका की नजर से नहीं देखती. इस भरोसे ने भी भ्रष्टाचार के अनेकों रास्तों को बंद किया है. इसलिए दस्तावेज़ों की वैरीफिकेशन के लेयर्स को हटाकर, करप्शन और अनावश्यक परेशानी से बचाने का रास्ता बनाया है.

Share this
Translate »