Friday , January 28 2022
Breaking News

अखिलेश यादव के करीबी लोगों के घर देर रात तक चला सर्च ऑपरेशन, टैक्स चोरी और बेनामी संपत्ति से जुड़े दस्तावेज मिले

Share this

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के करीबी लोगों पर आयकर विभाग के छापे के बाद राज्य में आरोप और प्रत्यारोपों का दौर शुरू हो गया है. वहीं आयकर विभाग ने एसपी प्रमुख के करीबियों के घरों में 40 घंटे तक सर्च ऑपरेशन चलाया. बताया जा रहा है कि आईटी टीम को छापेमारी के दौरान बेनामी संपत्ति और कर चोरी के दस्तावेज मिले हैं. वहीं रविवार को आयकर विभाग की एक टीम ने दिल्ली में कारोबारी राहुल भसीन के घर पर भी छापा मारा.

असल में आईटी की टीम ने शनिवार को अखिलेश यादव के करीबियों पर छापेमारी शुरू की थी और ये रविवार देर रात तक चली. छापे के दौरान आयकर विभाग को कई बेनामी संपत्तियों के साथ ही कंपनियों के दस्तावेज मिले हैं. वहीं कहा जा रहा है कि आयकर विभाग के अधिकारी राहुल भसीन से पूछताछ कर रहे हैं

असल में जिन लोगों पर आयकर विभाग ने छापा मारा है. वह अखिलेश यादव के करीबी हैं. वहीं अखिलेश यादव के ओएसडी जैनेंद्र यादव उर्फ नीतू, राहुल भसीन, मनोज यादव और जगत यादव के घर पर शुरू हुई आयकर विभाग की छापेमारी 36 घंटे बाद रविवार देर रात तक जारी रही. वहीं रविवार को आयकर विभाग की टीम ने दिल्ली में राहुल भसीन के आवास की भी तलाशी ली और जैनेंद्र यादव उर्फ नीतू के घर से मिनरल वाटर कंपनी के दस्तावेज भी मिले हैं. वहीं से आईटी टीम को राहुल भसीन के बारे में जानकारी मिली.

असल में आयकर विभाग कुछ नई कंपनी के कुछ साल के भीतर करोड़ों रुपये के टर्नओवर की जांच कर रहा है और बताया जा रहा है कि जैनेंद्र यादव का राज्य में एसपी सरकार आने के बाद रुतबा बढ़ता ही गया और एक मामूली स्कूटर पर चलने वाला जैनेंद्र महंगी गाड़ियों में घूमने लगा और शहर के पॉश इलाके में उसने संपत्तियां खरीद. लिहाजा आयकर विभाग की टीम नीतू और उसके परिवार के साथ ही करीबी रिश्तेदारों के नाम पर खरीदी गई संपत्ति की जांच कर रही हैं.

Share this
Translate »