Friday , January 28 2022
Breaking News

नासा कर रहा है पुजारियों की भर्ती, अंतरिक्ष में एलियंस से संपर्क साधने की है तैयारी

Share this

फ्लोरिडा. धरती पर लोगों को दूसरी दुनिया से जुड़े हुए रहस्य और वहां रहने वाले एलियंस को लेकर हमेशा ही उत्सुकता रहती है. इस राज़ का पता लगाने के लिए अमेरिकन स्पेस एजेंसी नासा ने अब विज्ञान के साथ-साथ पुजारियों की भी मदद लेने का फैसला किया है. एलियंस के साथ संपर्क साधने के लिए नासा अब पुजारियों की भर्ती कर रहा है.

नासा एलियंस से संपर्क को लेकर काफी गंभीर है और वो इसके लिए किसी भी हद तक जाने को तैयार है. ऐसे में वैज्ञानिक मिशन के साथ-साथ नासा धर्मशास्त्रियों की मदद भी लेगा. नासा ये जानने की कोशिश में है कि दुनिया के अलग-अलग धर्मों में धरती के प्राणियों की एलियंस के बारे में क्या विचारधारा है. बताया जा रहा है कि इस टीम में अलग-अलग धर्मों के पुजारियों को शामिल किया जाए.

24 धर्मशास्त्रियों की होगी टीम

सुनने में ये आपको थोड़ा अजीब लग रहा होगा कि नासा ने 24 धर्मशास्त्रियों को अपने एलियन हंटिंग मिशन का हिस्सा बना रहा है. कोलिंस डिक्शनरी के मुताबिक धर्मशास्त्री वे होते हैं, जो भगवान, धर्म और धार्मिक मान्यताओं का अध्ययन करते हैं. इस टीम का हिस्सा ब्रिटेन के जाने-माने पादरी डॉक्टर एंड्र्यू डेविसन को भी बनाया गया है. वे बायोकैमिस्ट्री में डॉक्ट्रेट की पढ़ाई भी कर चुके हैं. रिपोर्ट के मुताबिक यूरोपियन स्पेस एजेंसी रोजि़लैंड फ्रैंकलिन रोवर अगले साल से ही मार्स की सतह पर ड्रिलिंग शुरू कर देगा, ताकि वहां जीवाश्मों की खोज की जा सके.

बहुत से रहस्य खुलने हैं बाकी

रेव डॉ डेविसन की किताब, एस्ट्रोबायोलॉजी एंड क्रिश्चियन डॉक्ट्रिन में सवाल उठाया गया है कि क्या भगवान ब्रह्मांड में कहीं और जीवन बना सकते थे? उन्होंने इस बात पर भी चर्चा की है कि जब आकाशगंगा में 100 अरब से ज्यादा तारे और ब्रह्मांड में सैकड़ों अरब आकाशगंगा मौजूद हैं, तो फिर जीवन सिर्फ धरती के अलावा और कहीं क्यों नहीं हो सकता? इन चीज़ों को आधार मानते हुए ही नासा अब एलियंस की खोज और उनसे संपर्क के लिए मिशन में जुटा हुआ है.

Share this
Translate »