Monday , May 16 2022
Breaking News

बैंको की चार दिन की बंदी, कहीं ला न दे जेब की मंदी

Share this

नई दिल्ली। अगर आप किसी दिक्कत में नही पड़ना चाहते हैं तो बेहतरी इसी में है कि बैंक से जुड़ा जरूरी काम 28 मार्च तक निपटा लें, क्योंकि 29 मार्च यानि गुरुवार से बैंकों में 4 दिन की लंबी छुट्टी रहने वाली है। इस दौरान बैंक ब्रांच बंद रहने से बैंकिंग ट्रांजैक्‍शंस पर खासा असर हो सकता है और आपको कैश की किल्लत अर्थात जेब की मंदी से जूझना पड़ सकता है। हालांकि 31 मार्च को महीने का 5वां शनिवार है, इसलिए बैंकों में कामकाज होगा।

गौरतलब है कि सोशल मीडिया पर बैंकों के लगातार 5 दिन बंद रहने का मैसेज को गलत ठहराते हुए AIBOC के जनरल सेक्रेटरी डी. थॉमस फ्रांको राजेन्द्र देव ने बताया कि बैंक केवल गुरुवार और शुक्रवार को महावीर जयंती और गुड फ्राइडे पर बंद होंगे लेकिन 31 मार्च को महीने का 5वां शनिवार है, इसलिए बैंकों में कामकाज होगा। बैंक केवल महीने के दूसरे और चौथे शनिवार को ही बंद रहते हैं। इसके बाद एक अप्रैल को रविवार की छुट्टी है और 2 अप्रैल यानी सोमवार को भी बैंक बंद रहेंगे। 2 अप्रैल को एनुअल क्लोजिंग के चलते बैंक में पब्लिक डीलिंग नहीं होगी।

लेकिन इससे भी अहम बात है कि अगर आप महीने की अंतिम तारीख पर बैंकिंग से जुड़े कामों को निपटाने की सोच रहे हैं तो आपको कैश की किल्लत से जूझना पड़ सकता है। दो दिन की छुट्टी और मौजूदा वित्त वर्ष का अंतिम दिन होने के चलते 31 मार्च को बैकों में भारी भीड़ होगी। वहीं बैंक बंद रहने की वजह से एटीएम में पैसा डालने का काम प्रभावित हो सकता है।  इसलिए बेहतर होगा कि आप आखिरी समय का इंतजार न करते हुए बैंकों से जुड़े अपने जरूरी काम 28 मार्च तक खत्‍म कर लें।

 

Share this
Translate »