Sunday , September 25 2022
Breaking News

शर्मनाक: दरिंदो की दरिंदगी जारी, फिर एक मासूम गई मारी

Share this

लखनऊ। तमाम विरोधों और कवायदों के बावजूद भी विक्षिप्त मानसिकता के अपराधी मासूम बच्चियों से दरिंदगी करने से बाज नही आ रहे हैं। कठुआ और उन्नाव में हुआ गैंगरेप मामले की गूंज के बीच अभी मात्र  चार दिन पूर्व ही  प्रदेश के एटा में शादी समारोह में परिजनों के साथ आई एक 8 साल की बच्ची की बलात्कार के बाद हत्या किये जाने से लोगों में वैसे ही आक्रोश व्याप्त था । वहीं अब फिर इसी जनपद में ऐसी ही एक घटना की पुनरावृत्ति होने से लोगों में आक्रोश चरम पर पहुंच गया है।

गौरतलब है कि एटा जिले में एक 9 साल की मासूम बच्ची के साथ दरिंदे ने रेप किया। दरिंदे की हैवानियत यहीं पर खत्म नहीं हुई उसने रेप के बाद बच्ची की हत्या कर दी। फिलहाल पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है।

जानकारी के मुताबिक मामला अलीगंज थाना क्षेत्र के कैल्ठा गांव का है। यहां पीड़िता अपने चाचा के तिलक समारोह में शामिल होने आई थी। कार्यक्रम में चलते करीब रात 9 बजे बच्ची गायब हो गई। बच्ची के परिजनों ने उसे काफी ढूंढा, लेकिन वह नहीं मिली। जिसके बाद सुबह 3 बजे बच्ची का शव गांव के बाहर एक जंगल में पड़ा मिला। बच्ची का शव देखकर परिजनों के होश उड़ गए। जिसके बाद उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस बच्ची को अस्पताल लेकर गई। यहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

हालांकि इस मामले की कार्रवाई करते हुए पुलिस ने आरोपी पिंटू को गिरफ्तार कर लिया है। जो तिलक समारोह में हलवाई का कम करने आया था। वहीं इस घटना के बाद से इलाके में तनाव का माहौल है। जिसके चलते पुलिस ने भारी बल तैनात कर दिया है।

ज्ञात हो कि इसी प्रकार अभी चार दिन पूर्व ही एटा जनपद में ही 8 साल की बालिका अपने परिवार के साथ शादी समारोह में शामिल होने आई थी। रात करीब डेढ़ बजे शादी की रस्म चल रही थी और घर में तेज म्यूजिक और शहनाई बज रही थी। सभी लोग उसी में व्यस्त थे। उसी समय सोनू नामक युवक मौका पाकर बच्ची को उठाकर गली में ले गया और वहां एक निर्माणाधीन मकान के एक कमरे में ले जाकर उसके साथ बलात्कार किया और फिर वही उसकी गला दबाकर हत्या कर दी थी।

बेहद अहम और गौर करने की बात है कि अगर समय रहते सरकार ने इस पर सख्त कानून नही बनाया और ऐसी घटनाओं का सिलसिला ऐसे ही चलता रहा तो जल्द ही नौबत यह आने को है कि सरेआम भीड़ मौके पर ही अपराधी को मार डालेगी जो कि और भी घातक होगा। क्योंकि जैसा कि इस ऐटा वाले मामले में आरोपी को खुद दंड देने के लिए लड़की के पिता ने की आरोपी को उनके सुपुर्द करने की मांग की थी।

Share this
Translate »