Friday , May 27 2022
Breaking News

चीनी मिलों के मामले का गरमाना यानि मायावती की मुसीबत का बढ़ जाना

Share this

लखनऊ। आगामी 2019 लोकसभा चुनाव के ठीक पहले 21 चीनी मिलों का जिन्न फिर से बाहर आ गया है जिसके चलते बसपा सुप्रीमो मायावती की न सिर्फ मुश्किलें बढ़नी तय हैं बल्कि इसके चलते उनकी चुनावी तैयारियों का प्रभावित होना तय माना जा रहा है।

गौरतलब है कि बसपा सुप्रीमो मायावती को बड़ा झटका लगा है। दरअसल उनके शासन काल में बेची गई 21 चीनी मिलों की जांच अब सीबीआई करेगी। लोकसभा चुनाव से पहले चीनी मिलों की सीबीआई जांच ने मायावती को सकते में डाल दिया है।

ज्ञात हो कि मौजूदा योगी सरकार में फिर से 21 चीनी मिलों की बिक्री का मामला उछला है। सीबीआई ने पूरे मामले को टेकओवर कर जांच शुरू कर दी है। सीबीआई ने बिक्री के दस्तावेजों की समीक्षा करनी शुरू कर दी है। इस मामले में कई आईएएस अफसर और नेता भी जांच के घेरे में हैं।

हालांकि गौरतलब है कि, मायावती सरकार में हुए 1180 करोड़ रुपए के चीनी मिल बिक्री घोटाले की जांच पिछली अखिलेश यादव सरकार ने नवंबर 2012 में लोकायुक्त को सौंपी थी। तत्कालीन लोकायुक्त न्यायमूर्ति एनके मेहरोत्रा ने डेढ़ साल से ज्यादा समय तक जांच भी की, लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला था।

Share this
Translate »