Thursday , December 2 2021
Breaking News

योगी सरकार के तमाम दावों को झुठलाया, अपराधी ने रिहाई का जश्न फायरिंग करके मनाया

Share this

इलाहाबाद। प्रदेश में एक तरफ मुख्यमंत्री और तमाम नेता, मंत्री दुहाई देते नही थक रहे हैं कि हमारी सरकार में अपराधी थर-थर कांप रहे हैं और अपनी जमानत खारिज कराकर डर के मारे वापस खुद ही जेल में जा रहे हैं लेकिन उन सभी की बातों को इलाहाबाद विश्वविधालय के एक पूर्व दबंग छात्र नेता ने न सिर्फ झुठला दिया बल्कि उनके उन तमाम दावों को सरेआम चुनौती देते हुए अपनी रिहाई का जश्न सरेआम ताबड़तोड़ हवाई फायरिंग करके मनाया।

बेहद गौरतलब है कि प्रदेश में कानून के राज की दुहाई देने वाली योगी सरकार के लिए यह एक खुली चुनौती है कि जिस तरह से सरेआम प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या के क्षेत्र इलाहाबाद में गत दिवस इविवि के पूर्व छात्र नेता व हिस्ट्रीशीटर अभिषेक सिंह सोनू के जमानत पर छूटने पर उसके साथियों ने सैकड़ों गाड़ियों के साथ जुलूस निकाला। उसके समर्थकों ने इलाहाबाद के कर्नलगंज थाना क्षेत्र के हॉलैंड हॉल छात्रावास के सामने ताबड़तोड़ फायरिंग कर जश्न मनाया।  छात्र नेता अभिषेक सिंह उर्फ सोनू के खिलाफ इलाहाबाद में दर्जनों मुकदमें दर्ज हैं।

सोनू सिंह के जौनपुर जेल से छूटने के बाद उसके समर्थकों ने जौनपुर से लेकर इविवि तक जुलूस निकाला और हवाई फायरिंग की। वहीं हैरत की बात तो यह है कि कानून की रखवाली पुलिस ने खुलेआम गुंडागर्दी करने के मामले पर मात्र हर्ष फायरिंग करने का मुकदमा दर्ज किया है। इस तरह खुलेआम गुंडागर्दी देख साफ जाहिर होता है कि इलाहाबाद में कानून का राज खत्म हो गया है और अपराधी बेलगाम हो गए हैं।

वहीं जब इस मामले पर एसएसपी इलाहाबाद से बात की गई तो उनका चौंकाने वाला जवाब मिला। उन्होंने कहा कि जेल से छूटे एक व्यक्ति द्वारा बिना परमिशन के जुलूस निकाला। बिना परमिशन के जुलूस निकालने का मुकदमा दर्ज किया गया है। खुलेआम फायरिंग के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि जब सबूत मिलेगा तो कार्रवाई की जाएगी।

ज्ञात हो कि हाल के कुछ समय में इलाहाबाद में अपराधों का बोलबाला कुछ ज्यादा ही हो चला है जिसके चलते हालांकि एक कप्तान की विदाई भी हो चुकी है वहीं बावजूद इसके यहां का ऐसा माहौल अच्छे संकेत नही दे रहा है वो भी तब जब हाल में कई बड़े मामले सामने आ चुके हैं वहीं एक पुलिसवाले के बेटे वाले मामले में ही पुलिस की चूक के चलते उसकी जान तक चली गई थी।

Share this
Translate »