Sunday , July 3 2022
Breaking News

ईश्वर का पूजन कर आभार जताया, धूमधाम से नंदी ने पुर्नप्राप्त जन्मोत्सव मनाया

Share this

इलाहाबाद।  प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी उत्तर प्रदेश के उड्डयन मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी ने बहादुरगंज स्थित मनोकामना शिव मंदिर में गुरुवार को अपना पुर्नप्राप्त जन्मोत्सव मनाया। 12 जुलाई को हुए इस विशाल एवं पूजन में लगभग एक लाख से ज्यादा लोग शामिल हुए। वह सुबह बहादुरगंज स्थित शिव मंदिर पहुंचे। अपनी पत्नी और इलाहाबाद की मेयर अभिलाषा गुप्ता के साथ रूद्राभिषेक किया।

गौरतलब है कि नंद गोपाल पर 12 जुलाई, 2010 को जानलेवा हमला हुआ था। वह मानते हैं कि इस हमले में उनकी जो स्थिति थी, उसे देखते हुए उन्हें नया जीवन मिला है, इसलिए वह हर साल 12 जुलाई को पुनर्प्राप्त जन्मोत्सव मनाते हैं और विशाल पूजन का भी आयोजन कर पुर्नजीवन देने के लिए ईश्वर का आभार व्यक्त करते हैं।

जब 12 जुलाई, 2010 को उन पर बम से जानलेवा हमला हुआ था उस वक्त नंद गोपाल नंदी बहुजन समाज पार्टी  सरकार के कार्यकाल में भी मंत्री थे।  इस हमले में वह गंभीर रूप से घायल हुए थे। वह कई दिनों तक अस्पताल में रहे थे। इलाज के बाद अस्पताल से सही-सलामत घर आना उनके लिए कोई चमत्कार से कम नहीं था। वह मानते हैं कि ईश्वर ने उन्हें इस हमले के बाद नया जीवन दिया है।

इसके साथ ही उनका मानना है कि किसी भी राजनैतिक जीवन जीने वाले व्यक्ति का जीवन सार्वजनिक होता है और प्रत्येक व्यक्ति केवल उसकी सफलता में मिली ऊँचाई को देखता है उसके संघर्ष को नहीं। जब कोई उस सफलता को परास्त नही कर पाता तो उस व्यक्ति को मिटाने की साजिश की जाती है। लेकिन जिस व्यक्ति के साथ लोगों का प्यार तथा ईश्वर का आशीर्वाद होता है उसे मिटाना आसान नहीं होता।

वहीं बताया जाता है कि उस घटना के बाद से नंदी अपना जन्मदिन न मनाकर अपना पुनर्प्राप्त जन्मोत्सव मनाते हैं। हर साल 12 जुलाई को वह अपने परिवार के साथ मिलकर शिव मंदिर में रुद्राभिषेक करते हैं। गुरुवार को भी उन्होंने पूजन किया और उसके बाद भव्य भंडारे का आयोजन किया गया।

बताया जा रहा है कि इस आयोजन में एक लाख से ज्यादा लोगों ने भोजन ग्रहण किया। भोज बहादुरगंज, सुलाकी चौराहा और रामभवन सहित इलाहाबाद के कई पुराने इलाकों में चला। शाम को मंत्री के बहादुरगंज स्थित आवास में बीजेपी के कई मंत्री और प्रदेश सरकार के प्रशासनिक अधिकारी भी शामिल हुए। इस मौके पर प्रशासन ने सख्त सुरक्षा के इंतजाम किए थे।

Share this
Translate »