Tuesday , April 23 2024
Breaking News

मोदी ने किसान रैली में विपक्ष के गठबंधन को बताया दलदल, कहा- जितना होगा दलदल उतना खिलेगा कमल

Share this

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर रैली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गन्ना किसानों और उनके समर्थन मूल्य को लेकर कई बातें कही। उन्हें केंद्र की कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देने के साथ ही कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। अविश्वास प्रस्ताव से लेकर भ्रष्टाचार के मुद्दे पर कांग्रेस की सरकारों को जमकर कोसते हुए विपक्ष के गठबंधन को दलदल कहा। उन्होंने कहा कि, “दल के साथ दल होता है तो दलदल होता है। जितना दलदल उतना कमल खिलता है।”

उन्होंने कहा कि गन्ने से बना एथनॉल पेट्रोल में मिक्स किया जाता है। 160 करोड़ लीटर एथनॉल उत्पादन का लक्ष्य रखा गया है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कछुए की चाल से काम होने के चलते गन्ना किसानों के पैसे फंसे हुए हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि, “पिछले दिनों मुझे किसानों के बीच जाने के कई मौके मिले। मुझे अन्नदाताओं ने भरपूर आशीर्वाद दिया। कुछ दिन पहले देश भर के गन्ना किसान मुझसे मिलने दिल्ली आए थे। इसमें पश्चिमी यूपी के भी काफी किसान मेरे घर आए थे। तब मैंने अच्छी खबर सुनाने की बात कही थी। आज मैं शाहजहांपुर में वादा निभाने आया हूं।”

उन्होंने कहा कि,” हाल में सरकार ने ये फैसला किया है कि गन्ने की लागत मूल्य पर अस्सी फीसद सीधा लाभ मिलेगा। धान, मक्का, दाल और तेल वाली 14 फसलों के सरकारी मूल्य में 200 से 1800 रुपए की बढ़ोत्तरी इतिहास में पहले कभी नहीं हुई है। किसानों के नाम पर लोग घड़ियाली आंसू बहा रहे हैं।”

इसके साथ ही गन्ना किसानों को लेकर उन्होंने कहा कि, “केंद्र में बैठी हमारी सरकार के लिए गरीब, किसान प्राथमिकता है। चीनी के आयात पर 100 फीसद आयात शुल्क लगाया गया। 20 लाख टन चीनी निर्यात करने की मंजूरी दी। 5 करोड़ गन्ना किसानों के लिए सरकार ने फैसले लिए हैं। आने वाले दिनों में बकाए के भुगतान की गति और तेज होगी।”

जबकि कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि, “कांग्रेस ने किसानों के लिए कुछ नहीं किया। गन्ना किसानों को परेशान होने के लिए छोड़ा गया। अर्पूण, असंवेदनशील सोच और भ्रष्ट व्यवस्था ने इतने सालों तक देश के किसानों का बहुत बड़ा नुकसान किया। सिंचाई से जुड़ी परियोजनाओं को भी पुरानी सरकारों ने दशकों तक लटकाया गया।”

उन्होंने कहा कि,” ये बांध बन जाने के बाद पूर्वी उत्तर प्रदेश के एक लाख से ज्यादा किसान परिवारों को सीधे फायदा होगा। किसान को पानी मिल जाए तो वो मिट्टी से सोना पैदा कर सकता है।” साथ ही ये भी कहा कि, यूरिया की नीम कोटिंग होने से इसकी चोरी रुकी है। पहले यूरिया खेतों में पहुंचने के बजाए दोबारा फैक्ट्रियों में पहुंच जाता था।

इतना ही नही  पीएम मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि, ” आखिर वो कौन सा पंजा था जो रुपए में से 85 पैसे मार देता था। जबकि जब हमने 90 हजार करोड़ की चोरी बंद की तो सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव आया।”

वहीं अविश्वास प्रस्ताव के सहारे पीएम ने कांग्रेस को जमकर कोसा। उन्होंने कहा कि, “मैंने चार साल में क्या गलत किया। मेरा गुनाह है कि मैं भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ रहा हूं, परिवारवाद के खिलाफ खड़ा हूं। ये लालबत्ती छीन लेना क्या गुनाह है।”

इसके अलावा वहीं इस रैली को संबोधित करते हुए अविश्वास प्रस्ताव के जरिए यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस औऱ राहुल गांधी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि, संसद में झूठ धराशाई हुआ है। किसानों को एक लाख करोड़ से ज्यादा की राशि दी गई है। किसानों के जीवन में खुशहाली होगी।

किसान रैली में बोलते हुए योगी ने कहा कि, “हमने देखा कि कैसे पीएम मोदी ने संसद में हर आरोपों पर जवाब दिया। अविश्वास प्रस्ताव ध्वनि मत से गिर गया। ये दिखाता है कि 2019 में भी पीएम मोदी के नेतृत्व में भाजपा सरकार बनेगी और भारत सुपरपॉवर बनेगा।”

 

Share this
Translate »