Thursday , April 25 2024
Breaking News

बच्चों के यौन उत्पीड़न में गिरफ्तार हुआ मदरसे का मौलवी

Share this

नई दिल्ली। देश में हाल के पिछले कुछ वक्त जहां तमाम धर्म से जुड़े मठाधीशों की पोल खुलने का सिलसिला बदस्तूर जारी है चाहे वो आसा राम हों या राम रहीम आदि आदि लेकिन इसके साथ ही फिलहाल कुछ एक् मदरसों में भी होने वाले खेल की परतें खुलने से यह साफ होने लगा है कि ऐसे दरिंदे हर मजहब में मौजूद हैं। इसी क्रम में अब पुणे के एक मदरसे से ऐसा ही कुछ मामला सामने आने से हड़कम्प मच गया है।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र में पुणे के कटराज उपनगर में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। पुणे पुलिस ने एक मदरसे से यौन उत्पीड़न के आरोपी 21 वर्षीय मौलवी रहीम को यौन उत्पीड़न के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया।साथ ही पुलिस ने मदरसे से कथित तौर पर कुल 36 छात्राओं को भी बचाया है।

इस बाबत जानकारी देते हुए इंस्पेक्टर मिलिंद गायकवाड़ ने बताया कि पुणे में छात्राओं के यौन उत्पीड़न के आरोप में एक मदरसे के मौलाना को गिरफ्तार किया गया है और मदरसे से 36 छात्राओं को भी बचाया गया है। आरोपी मौलाना के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है और आगे की जांच की जा रही है।

शुक्रवार को पुणे के एक मदरसा से 36 बच्चों को निकाल लिया है। ये सभी बच्चे बिहार से आए थे और उनकी उम्र 6 से 10 साल के बीच है। बाल कल्याण विभाग की तरफ से उन बच्चों को वहां से निकालने के बाद उन्होंने बताया कि वे वहां से इसलिए भागे थे क्योंकि वहां पर लागातार आनेवाला एक मौलवी उसके अन्य साथियों के साथ यौन उत्पीड़न करता था।

उन्होंने यह भी बताया कि मौलवी उनसे यह कहता था कि वे अपने कपड़े उतारे और उसके बाद वह उनके प्राइवेट पार्ट्स को छूता था। एक पुलिस अधिकारी ने बताया- “एक कमेटी सदस्य ने यह पूछा कि क्यों वे भाग गए। उन्होंने बताया कि मौलवी रहीम उनमें से एक के भाई का यौन उत्पीड़न करता था इस डर की वजह से वह वहां से भाग गया।” बाल अधिकार कार्यकर्ता डॉक्टर यामिनी अबे ने बताया कि उसके बाद पुलिस में शिकायत दर्ज करायी गई थी।

Share this
Translate »