Thursday , April 25 2024
Breaking News

कीमतें इस हद तक जा सकती हैं कि जल्द प्याज फिर रूला सकती है

Share this

डेस्क। देश में फिलहाल तो नवरात्रि पर्व की धूम है उससे पहले पितृपक्ष चल रहे थे जिसके चलते काफी हद तक प्याज की खपत कम चल रही थी। लेकिन अब नवरत्रि पर्व के समापन के साथ ही नॉनवेज के बाजार में एक दम से बूम आना तय है। ऐसे में जैसा कि खबरें आ रही है कि प्याज की कीमतों में अचानक भारी तेजी आ सकती है और एक बार फिर प्याज हम आपको अपनी कीमतों के चलते रूला सकती है।

गौरतलब है कि माना जा रहा है अब प्याज की कीमतें एक बार फिर से 50 रुपये प्रति किलो तक पहुंचने की आशंका है। क्योंकि देश में प्याज की सबसे बड़ी थोक मंडी में कीमतें 50 फीसदी बढ़ चुकी हैं। वहीं प्याज मंडी के आढ़तियों के मुताबिक खरीफ की फसल इस बार कमजोर रहने की आशंका है। किसानों का कहना है कि अभी जो प्याज की आवक मंडियों में हो रही है वो पहले की फसल का स्टॉक है। बारिश नहीं होने की वजह से खेतों में तैयार हो रही फसल कमजोर हो गई है, जिससे इस बार उत्पादन काफी कम रहेगा।

जानकारों की मानें तो दरअसल दिवाली के दौरान थोक मंडी बंद रहेगी, जिसके कारण कीमतों में काफी इजाफा होने की उम्मीद है। इसके साथ ही एशिया की सबसे बड़ी प्याज मंडी लासलगांव  दिवाली के दौरान कम से कम 8 दिन के लिए बंद रहेगी। इस दौरान देश की अन्य मंडियों में प्याज की आवक काफी कम हो जाएगी। अभी यहां पर थोक भाव 12 रुपये से बढ़कर 18 रुपये प्रति किलो पहुंच चुका है। यहां के अलावा मध्य प्रदेश और राजस्थान के अलवर में प्याज का थोक भाव 10 रुपये प्रति किलो के स्तर पर है।

इसके अलावा वहीं कीमतों में बढ़ोतरी का एक बड़ा कारण डीजल भी है। देश भर में लगातार डीजल के दाम बढ़ते जा रहे हैं। फल और सब्जी की खेत से थोक मंडी और यहां से पूरे देश की खुदरा मंडियों में ढुलाई के लिए डीजल से चलने वाले वाहनों का प्रयोग होता है। डीजल के बढ़ते दाम का असर अभी से फल-सब्जियों पर दिखने लगा है। दिवाली के दौरान अन्य सब्जियों के दाम भी काफी बढ़ गए हैं।

Share this
Translate »