Monday , September 27 2021
Breaking News

कर्फ्यू के बीच कासगंज में हिंसा और आगजनी

Share this

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के कासगंज में दो दिनों से जारी कर्फ्यू के बीच रविवार को भी सांप्रदायिक हिंसा हुई. रविवार की सुबह उपद्रवी तत्वों ने एक दुकान में आग लगा दी. स्थिति को सामान्य करने के लिए इलाके में पीएसी और पुलिस के जवान तैनात किए गए हैं, लेकिन हिंसा और आगजनी की घटनाओं में कोई भी कमी नहीं आ रही है.

कासगंज हिंसा में अब तक कुल 49 लोगों को अरेस्ट किया जा चुका है. राज्य के पुलिस प्रवक्ता  के मुताबिक, शुक्रवार को कासगंज में दो ग्रुप के आपस में एक-दूसरे पर पत्थरबाजी और फायरिंग करने से यह विवाद पैदा हुआ था.बता दें कि उत्तर प्रदेश के कासगंज में शुक्रवार को दो गुटों में हुई झड़प के बाद अब भी तनाव बना हुआ है. गणतंत्र दिवस के मौके पर निकाली जा रही तिरंगा यात्रा का एक संप्रदाय के लोगों ने विरोध किया. इस बीच हुई झड़प में चंदन गुप्ता की गोली लगने से मौत हो गई थी.कासगंज में शुक्रवार को गणतंत्र दिवस पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की तिरंगा यात्रा के दौरान मुस्लिम बहुल इलाके में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए गए थे और वंदेमातरम का विरोध किया गया था.

इससे पहले कर्फ्यू लगाने और भारी सुरक्षा बलों की तैनाती के बावजूद शनिवार सुबह भी हिंसा भड़क उठी थी. कासगंज हिंसा में अब तक कुल 49 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. राज्य के पुलिस प्रवक्‍ता के मुताबिक, शुक्रवार को कासगंज में दो ग्रुप के आपस में एक-दूसरे पर पत्थरबाजी और फायरिंग करने से यह विवाद पैदा हुआ था

पुलिस ने 20 लोगों के खिलाफ हत्या एवं उपद्रव की धाराओं में मामला दर्ज किया था. पुलिस ने 9 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है और करीब 40 लोगों को अपनी हिरासत में लिया है. वहीं कुछ असमाजिक तत्वों ने नदरई गेट इलाके में हाईवे पर बस को और घंटाघर बारहद्वारी पर पांच दुकानों को आग के हवाले कर दिया. सहावर गेट के पास धार्मिक स्थल के पास मकान में आग लगा दी. दंगे में मरे युवक के अंतिम संस्कार के बाद उपद्रवियों ने मिशन चौराहे के पास एक प्राइवेट बस में आग लगा दी. इसके पास ही एक दुकान में आग लगा दी. पुलिस के पहुंचने के पहले उपद्रवियों ने शहर के बारहद्वारी के पास पांच दुकानों में भी आग लगा दी.

सूचना पर पुलिस और आरएएफ पहुंच गई. दमकल कर्मियों ने पहुंचकर आग पर काबू पाया. डीजीपी मुख्यालय से आईजी डीके ठाकुर को तुरंत कासगंज भेजा गया है. अलीगढ़ के कमिश्नर सुभाष चंद्र शर्मा, आईजी संजीव गुप्ता, डीएम आरपी सिंह, एसपी सुनील कुमार सिंह लगातार क्षेत्र का दौरा कर रहे हैं.

कासगंज शहर में उपद्रव के बाद धारा 144 लागू कर दी गई है. पुलिस माहौल खराब करने वालों के खिलाफ धरपकड़ कर कोतवाली में बंद करने का अभियान भी चला रही है. कई लोगों को पकड़कर बंद किया गया है.कासगंज में हुए उपद्रव के बाद एटा का प्रशासन भी चौकन्ना हो गया है.

कासगंज की ओर रोडवेज बस सहित जाने वाले सभी वाहनों को रोक दिया गया. झड़प के दौरान मारे गए युवक के अंतिम संस्कार में शामिल होने जा रही साध्वी प्राची को सिकंदराराऊ में पुलिस ने रोका. गुस्साई साध्वी प्राची ने पंत चौराहे पर ही धरना शुरू कर दिया.

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »