Monday , April 22 2024
Breaking News

रफ्तार और लापरवाही फिर बनी 5 का काल, डेढ़ दर्जन लोग घायल हालत में पहुंचे अस्पताल

Share this

लखनऊ। रफ्तार और लापरवाही के चलते हर रोज ही हादसों में कितने लोग अपनी जान गंवा रहे हैं लेकिन हद की बात ये है कि बावजूद इसके भी लोग इससे सबक नही ले रहे हैं और इन्हीं गलतियों को दोहरा कर अपनी जान गंवा रहे हैं। इसी क्रम में अब प्रदेश के अलग अलग जनपदों में हुए सड़क हादसों में जहां पांच लोगों की र्दनाक मौत हो गई वहीं तकरीबन डेढ़ दर्जन लोगों को घायल हालत में अस्पतालों में भर्ती कराया गया है।

मिली जानकारी के मुताबिक जहां जनपद मथुरा में यमुना एक्सप्रेसवे पर एक बार फिर रफ्तार का कहर देखने को मिला है। गुरुवार दोपहर को तेज रफ्तार कार अनियंत्रित होकर डिवाइडर से टकरा गई। हादसे में कार सवार मांबेटे सहित तीन की मौत हो गई है। हादसा मथुरा के थाना बलदेव क्षेत्र में एक्सप्रेसवे पर माइलस्टोन 129 के पास हुआ है। कार सवार आगरा से नोएडा की ओर जा रहे थे। मृतक एक ही परिवार के हैं। पुलिस ने इनके शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।

मृतकों की शिनाख्त फैजाबाद निवासी उर्मिला, मुकेश और आयुषी के रूप में हुई है। मुकेश उर्मिला का बेटा है और आयुषमी भतीजी। ये लोग फैजाबाद से गाजियाबाद के लिए जा रहे हैं। पुलिस ने मृतकों के परिजनों को सूचना दे दी है। बताया जा रहा है कि यमुना एक्सप्रेसवे पर माइलस्टोन 129 के पास कार अचानक अनियंत्रित होकर डिवाइडर से टकरा गई। कार की रफ्तार इतनी तेज थी कि डिवाइडर से टकराने पर उसके परखच्चे उड़ गए। उसमें सवार लोग बुरी तरह फंस गए।

इसी प्रकार जनपद रायबरेली में लालगंज के खीरों थाना क्षेत्र के निहस्था गांव में बुधवार देर रात दो कारों में हुई भिड़ंत में सात लोग घायल हो गए जबकि एक महिला की मौत हो गई। घायलों को जिला अस्पताल भेज दिया गया है जहां उनका इलाज चल रहा है। बताया जाता है कि कार सवार एक पारिवारिक कार्यक्रम में शामिल होकर वापस कानपुर लौट रहे थे। रास्ते में निहस्था गांव के पास हुए हादसे में कानपुर की सुशीला (60) की मौत हो गई। हादसे में कानपुर के ही कामता प्रसाद, कलावती, मंजू सोनी के अलावा नसीराबाद के रेहान, अब्दुल कयूम जायस के नजीबुल्ला गंभीर रूप से घायल हो गए। सभी को रायबरेली जिला अस्पताल रेफर किया गया है।

इसके साथ ही जनपद अंबेडकर नगर में सब्जी बेचकर घर लौटने के दौरान सामने से रही तेज रफ्तार जीप ने पहले साइकिल सवार किशोर को रौंद दिया, फिर ठेला लेकर रहे उसके पिता गांव निवासी एक अन्य सब्जी विक्रेता को जोरदार टक्कर मार दिया। किशोर की घटनास्थल पर ही मौत हो गई, जबकि अन्य दोनों की हालत गंभीर बनी हुई है। दोनों का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है। जानकारी के अनुसार, सम्मनपुर थाना अन्तर्गत सम्मनपुर निवासी महेंद्र कुमार (38) पुत्र रामकेवल रामजगत (55) पुत्र तुलसीराम तथा महेंद्र का 15 वर्षीय पुत्र दुर्गेश बुधवार देर शाम कुर्कीबाजार से सब्जी बेचकर घर लौट रहे थे।

इसके अलावा जनपद बहराइच के मोतीपुर थाना क्षेत्र के ग्राम अड़गोड़वा सियापुरवा के पास 11 छात्रों को लेकर जा रहे ऑटो को एक ट्रक ने टक्कर मार दी। हादसे में ऑटो सवार आठ बच्चों सहित नौ लोग घायल हो गए। दुर्घटना से चीख पुकार मच गई। लोगों ने आनन फानन में  घायलों को सीएचसी मोतीपुर पहुंचाया। गंभीर घायल छात्रों को जिला अस्पताल रेफर किया गया है। बताया जाता है कि छह छात्रों का इलाज सीएचसी में चल रहा है। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों वाहनों को कब्जे में ले लिया। ट्रक चालक को हिरासत में लेकर जांच शुरू कर दी गई है।

Share this
Translate »