Tuesday , August 16 2022
Breaking News

शोहदों ने की न्यूज एंकर से छेड़छाड़

Share this
  • चार दिन तक हुई नही कोई कारवाई
  • आम-ओ-खास, सभी पुलिस से निराश

लखनऊ।  प्रदेश में शोहदों के दुस्साहस दिन प्रतिदिन बढ़ते ही जा रहे हैं वहीं उनके हौसलों को बढ़ाने में काफी हद तक पुलिस का ढीला ढाला रवैया भी अहम भूमिका निभा रहा है। सूबे में शोहदों के आतंक के चलते कितनी ही लड़कियां न सिर्फ स्कूल छोड़ चुकी हैं बल्कि कितनी ही जब तब खुदकुशी भी कर चुकी हैं। बावजूद इसके शोहदों पर लगाम अभी तक कसी नही जा सकी है जिसके परिणामस्वरूप दो ऐसे ही शोहदों ने ताज नगरी में एक न्यूज चैनल की न्यूज ऐंकर से न सिर्फ छेड़छाड़ की बल्कि बड़ी ही बेशर्मी के साथ अपनी गाड़ी का नंबर फर्जी बताते हुए नोट कर लेने को कहा। उस पर तुर्रा यह है कि उक्त ऐंकर की शिकायत पर महिला हेल्प लाइन द्वारा चार दिनों तक कोई कारवाई ही नही की गई वहीं जब फेसबुक के द्वारा उसने अपनी व्यथा कथा बयान की तब जाकर पुलिस अधिकारियों की कान पर जूं रेंगी और आनन फानन में दोनों शोहदों को गिरफ्तार कर लिया गया।

जानकारी के मुताबिक आगरा के अपर पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार ने बताया कि 25 जनवरी की रात टीवी एंकर अपनी ड्यूटी खत्म कर घर लौट रही थी कि शराब के नशे में धुत दो युवकों ने उसका पीछा किया और फब्तियां कसी। डरी सहमी न्यूज एंकर ने महिला हेल्प लाइन 1090 पर फोन कर घटना की जानकारी दी।

गौरतलब है कि महिला एंकर दामिनी माहौर ने इस घटना को सोशल मीडिया में साझा किया था। माहौर ने लिखा कि महिला हेल्पलाइन पर फोन करने के बावजूद चार दिनो तक उसे कोई सहायता नही मिली आखिरकार उसने फेसबुक पर घटना को बयां करना उचित समझा।

उसने लिखा “ 25 जनवरी की रात आठ बजे भगवान टाकीज के पास मोटरसाइकिल सवार दो युवकों ने मेरा पीछा किया शुरू में मैने नजरअंदाज किया मगर उनमे से एक ने मुझसे बात करने की कोशिश की। डर कर मैने रास्ता बदल लिया मगर युवकों ने मेरा पीछा करना जारी रखा। मैने मोटरसाइकिल का नम्बर नोट करना चाहा तो पीछे बैठे युवक ने कहा कि नम्बर फर्जी है।उनके चेहरे पर डर और शर्म नाम की कोई चीज नही थी।
आगरा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, महिला हेल्पलाइन,पुलिस महानिदेशक और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को टैग कर माहौर ने लिखा “ मेरे साथ जो हुआ वह बडी घटना नही कही जा सकती मगर ये लोग राह चलती किसी अकेली महिला के साथ बेखौफ होकर बदतमीजी करें, यह पुलिस के लिये बडे शर्म की बात है। अगली बार यह किसी युवती के साथ बलात्कार की घटना भी हो सकती है जो उसकी जिंदगी बरबार कर दे।
इसके बाद पुलिस अधिकारियों ने उससे संपर्क साधा और प्राथमिकी दर्ज की। आगरा पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की धारा 354 डी के तहत आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

 

Share this
Translate »