Tuesday , April 23 2024
Breaking News

राम मंदिर निर्माण के लिये अगर संसद में आया अध्यादेश, तो AIMPLB करेगा SC में चुनौती पेश

Share this

लखनऊ। राजधानी लखनऊ स्थित इस्लामी तालीम के बेहद अहम केन्द्र नदवा कॉलेज में आज विभन्न मुद्दों को लेकर आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड की बैठक संपन्न हुई। जिसमें जहां तमाम अहम मसलों पर बेहद संजीदगी से गौर किया गया वहीं अयोध्या मामले में ये भी तय किया गया कि अगर राम मंदिर निर्माण के लिये संसद में अध्यादेश लाया गया तो मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड सुप्रीम कोर्ट में उसे चुनौती देगा।

गौरतलब है कि इस बैठक के बाद प्रेसवार्ता के दौरान बोर्ड की कार्यकारिणी के सदस्य और प्रवक्ता जफरयाब जीलानी एडवोकेट ने साफ तौर पर कहा कि अयोध्या मामले में अगर राम मंदिर निर्माण के लिये संसद में अध्यादेश लाया गया तो मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड सुप्रीम कोर्ट में उसे चुनौती देगा।

इसके साथ ही इस पहले शनिवार को लखनऊ में बोर्ड की महिला विंग की कार्यशाला में बोर्ड के महासचिव मौलाना वली रहमानी ने कहा था कि इस्लामी शरीअत औरतों की सुरक्षा करने वाली है। यह शरीअत कयामत तक कायम रहेगी।

दरअसल  ‘तहफ्फुज-ए-शरीअत व इस्लाह-ए-माअशरा’ शीर्षक से आयोजित इस कार्यशाला में बोर्ड की कार्यकारिणी के सदस्य और प्रवक्ता जफरयाब जीलानी एडवोकेट ने कहा कि मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड के पैगाम, मकसद और इसके फैसलों को मुसलमानों के घर-घर तक पहुंचाने के लिए बोर्ड की महिला विंग की स्थापना की गयी है।

इसके अलावा इमाम ईदगाह मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने महिलाओं से अपील करते हुए कहा कि वह एक अच्छे समाज की स्थापना में भरपूर हिस्सा लें और इस्लामी शरीअत में महिलाओं को दिये गए अधिकारों से लोगों को अवगत करवाएं।

Share this
Translate »