Friday , September 17 2021
Breaking News

स्कूल टॉयलेट में एक और छात्र की संदिग्ध मौत

Share this

नई दिल्ली। बेहद खौफनाक और अफसोसनाक की स्कूल अब बच्चों के लिए असुरक्षित होते जा रहे हें। क्योंकि हाल ही में गुरुग्राम प्रद्युम्न हत्याकांड के बाद दिल्ली के नामी स्कूल से भी ऐसा ही मामला सामने आया है। दिल्ली के करावल नगर स्थित एक निजी स्कूल में कल सुबह नौंवीं कक्षा के छात्र तुषार (16)की मौत हो गई। तुषार रोजाना की तरह स्कूल पहुंचा था उसके बाद वह शौचालय में अचेत मिला था। स्कूल प्रशासन ने तुषार को तुरंत जीटीबी अस्पताल पहुंचाया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। परिजनों ने हत्या किए जाने का आरोप लगाया है। परिजनों का कहना है कि झगड़ा होने के बाद पीट-पीटकर तुषार की हत्या की गई है। वहीं स्कूल प्रशासन का कहना है कि तुषार की मौत अधिक दस्त होने के कारण हुई है।  खजूरी खास थाना पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए जीटीबी मोर्चरी भेज दिया है। शुक्रवार को मेडिकल बोर्ड की मौजूदगी में शव का पोस्टमार्टम कराया जाएगा।
जानकारी के अनुसार बताया जाता है कि जीटीबी अस्पताल में मौजूद स्कूल स्टाफ ने फोन पर परिजनों को बताया कि तुषार की तबीयत खराब है। अस्पताल पहुंचने पर पता चला कि उसकी मौत हो चुकी थी। स्कूल प्रशासन ने बताया कि तुषार को दस्त हो रहे थे, जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई। पहुंचने पर तुषार के ही क्लास में पढऩे वाले अन्य छात्रों ने परिवार को बताया कि उसका कुछ लड़कों से झगड़ा हो गया था। इन लोगों ने उसकी बुरी तरह पिटाई कर दी, जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई। वहीं स्कूल प्रशासन किसी भी झगड़े की बात से इंकार कर रहा है। खजूरी खास थाना पुलिस स्कूल प्रशासन व तुषार की क्लास में पढऩे वाले छात्रों से पूछताछ कर मामले की जांच कर रही है।

वहीं तुषार के चाचा के बेटे रवि का आरोप है कि उसके भाई तुषार की स्कूल में पीट पीट कर हत्या  की गई है। लेकिन स्कूल प्रशासन खुद को बचाने के लिए झूठ बोल रहा है।  रवि का कहना है कि तुषार के सीने और गर्दन पर गुम चोटों के निशान हैं। स्कूल प्रशासन मामले को दबाने की कोशिश कर रहा है। रवि का कहना है कि तुषार की मौत 10:30 बजे हो चुकी थी। लेकिन स्कूल ने जीटीबी अस्पताल से 12:00 बजे उसके बीमार होने की सूचना दी

गौरतलब और अहम बात यह है कि छात्र तुषार परिवार के साथ गली नंबर-3, तुकमीरपुर, करावल नगर में रहता था। परिवार में पिता सुनील कुमार और मां निशा है। तुषार अपने परिवार का इकलौता बच्चा था। तुषार के पिता एमसीडी में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी हैं। वह सादत नगर स्थित जीवन ज्योति पब्लिक स्कूल में नौंवी कक्षा का छात्र था। वीरवार सुबह तुषार घर से स्कूल गया था। करीब 10:30 बजे छात्रों ने उसे स्कूल के बाथरूम में पड़ा देखा। फौरन मामले की खबर स्कूल प्रशासन को दी गई। तुषार को जीटीबी अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

 

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »