Monday , April 22 2024
Breaking News

मेरीकॉम की एक और उपलब्धि, बनीं विश्व की नंबर एक मुक्केबाज

Share this

नई दिल्ली! 6 बार की विश्व चैंपियन भारत की एमसी मेरीकॉम ने अपने नाम एक और विशिष्ट उपलब्धि हासिल कर ली है. मैग्नीफिशेंट मेरी के नाम से मशहूर मेरीकॉम अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी संघ की ताजा रैंकिंग में टॉप पर पहुंच गई हैं. मेरीकॉम ने पिछले साल नवंबर में दिल्ली में आयोजित विश्व चैंपियनशिप के 48 किलोग्राम भार वर्ग में गोल्ड मेडल जीता. ये इस वर्ग में उनका रिकॉर्ड छठा खिताब था. ताजा रैंकिंग में मेरीकॉम के 1700 अंकों के साथ टॉप पर पहुंच गई हैं.

मेरीकॉम की नजरें अब 2020 टोक्यो ओलंपिक पर है, लेकिन इसमें उन्हें 51 किलोग्राम भार वर्ग में खेलना होगा क्योंकि ओलंपिक में 48 किलोग्राम भार वर्ग की मुक्केबाजी प्रतियोगिता में शामिल नहीं है. साल 2018 भी मेरीकॉम के लिए काफी अच्छा रहा और उन्हें विश्व चैंपियनशिप के अलावा कॉमनवेल्थ गेम्स और पोलैंड में आयोजित अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट में गोल्ड मेडल जीता था. उन्होंने बल्गारिया में प्रतिष्ठित स्ट्रैंड्जा मेमोरियल में रजत पदक जीता.

रैंकिंग में अन्य भारतीय मुक्केबाज की बात करें तो महिला बॉक्सर पिंकी जांगड़ा 51 किग्रा सूची में 8वें स्थान पर हैं. वहीं एशियाई सिल्वर मेडलिस्ट मनीषा माउन भी 54 किग्रा वर्ग में 8वें स्थान पर हैं. विश्व चैंपियनशिप सिल्वर मेडल जीतने वाली सोनिया लाठेर 57 किग्रा में दूसरे स्थान पर हैं. विश्व चैंपियनशिप में ब्रॉन्ज मेडल हासिल करने वाली सिमरनजीत कौर (64 किग्रा) हाल में राष्ट्रीय चैंपियन बनीं, वह अपने वर्ग में चौथे स्थान पर हैं, जबकि पूर्व विश्व चैंपियन एल. सरिता देवी 16वें स्थान पर मौजूद हैं.

Share this
Translate »