Tuesday , August 16 2022
Breaking News

ममता और केन्द्र सरकार के बीच जारी गतिरोध, रविशंकर प्रसाद ने राहुल को कराया बखूबी इसका बोध

Share this

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल में हुए एक घोटाले में सीबीआई की कारवाई को लेकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और केन्द्र सरकार के बीच जारी गतिरोध के बीच जहां सियासी सरगर्मियां काफी तेज हो चली हैं। क्योंकि जहां कुछ सियासी दल और उनके नेता ममता बनर्जी के समर्थन में आकर केन्द्र की मोदी सरकार को आड़े हाथों लेने में जुट गए हैं। वहीं भाजपा ने भी ममता के इस कदम को लेकर कई अहम सवाल उठाते हुए जबर्दस्त पलटवार किए हैं।

गौरतलब है कि केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने ममता पर वार करते हुए कहा कि ये क्या हो रहा है? एक पुलिस कमिश्नर नेताओं के साथ धरने पर बैठा है? इसका क्या मतलब है? धरने पर बैठकर पश्चिम बंगाल की सीएम ने अरविंद केजरीवाल के नक्शेकदम पर चलना शुरू कर दिया है।

ममता के साथ राहुल गांधी पर हमला करते हुए रविशंकर ने कहा कि 2014 में कांग्रेस ने राहुल गांधी के बयान को ट्वीट किया था, जिसमें राहुल ने कहा था कि पश्चिम बंगाल में 20 लाख लोगों ने चिटफंड घोटाले में अपने रुपये गंवा दिए। हमने 26 मई 2014 को शपथ ली थी इसलिए नारदा-शारदा घोटालों की छानबीन पहले ही शुरू कर दी गई थी।

ज्ञात हो कि कोलकाता के कमिश्नर राजीव कुमार से पूछताछ करने गई सीबीआई टीम के अधिकारियों को रविवार को पुलिस ने अपनी हिरासत में ले था। बाद में सीबीआई के पांचों गिरफ्तार अधिकारियों को छोड़ दिया गया। हालांकि किसी भी अधिकारी ने मीडिया से बातचीत करने से मना कर दिया।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भाजपा और पीएम मोदी पर वार करते हुए धरने पर बैठने का एलान कर दिया। ममता मेट्रो चैनल, कोलकाता में ‘संविधान बचाओ’ धरना पर बैठ गईं। इस घटना के बाद से लगातार ममता पर भाजपा नेताओं का हमला जारी है।

Share this
Translate »