Sunday , July 3 2022
Breaking News

वादा जब लगने लगेगा जुमला, जनता खुद ही कर देगी फैसला: शत्रुघ्न सिन्हा

Share this

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सांसद और फिल्म अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा ने यहां सोमवार को कहा कि सरकारों का आना-जाना लगा रहता है और जिस दिन जनता को उनसे किए वादे जुमले लगने लगेंगे, वह अपना फैसला सुना देगी। मध्यप्रदेश के नरसिंहपुर जिले में स्थापित हो रहे एनटीपीसी संयंत्र के कारण विस्थापित हुए किसानों और उन पर दर्ज मामलों को लेकर जिलाधिकारी कार्यालय के सामने धरना देने वाले पूर्व केंद्रीय वित्तमंत्री यशवंत सिन्हा का समर्थन करने आए भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने सोमवार को संवाददाताओं से कहा, सरकारों का आना-जाना जनता जर्नादन पर निर्भर है, जिस परिवार (नेहरू-इंदिरा) का देश में बड़ा योगदान था, राजीव गांधी के नेतृत्व में भारी बहुमत मिला था, उन्हें भी सत्ता से जाना पड़ा था।
उन्होंने कहा, जनता को जब वादे पूरे होते नहीं दिखेंगे, भाषण जुमले लगने लगेंगे, उस दिन जनता फैसला कर देगी। हम पहले भी बहुमत में आ चुके हैं, अब भी हैं। सरकार का रहना और न रहना जनता तय करती है। केंद्र सरकार के मंत्री बाबुल सुप्रियो द्वारा शत्रुघ्न सिन्हा को पार्टी छोडऩे के लिए ‘तीन तलाक’ कहने का सुझाव देने पर सिन्हा ने कहा, बाबुल कौन हैं, मैं उन्हें जानता भी नहीं। जब आपने उनकी ओर से सवाल पूछा है तो बता दूं कि जो पहली और आखिरी बार सांसद बना हो, उनकी पैदाइश से पहले मैं फिल्मों और राजनीति में रहा हूं।
तंज भरे लहजे में उन्होंने कहा कि लगता है कि अब वे दिन आ गए हैं कि उनकी सलाह लेना पड़ेगी। केंद्र सरकार के बावत पूछे जाने पर सिन्हा ने कहा, आज वन मैन शो और टू मैन आर्मी है, आज मंत्रियों को कोई नहीं जानता, उनकी कोई हैसियत नहीं है। मंत्री को कोई जानता है तो मानता नहीं, मानता है तो पहचानता नहीं। इसलिए सरकार सामूहिक तौर से चलानी चाहिए। अटलजी की सरकार में सभी को महत्व था, वह सरकार अच्छी तरह से चली थी। इस मौके पर उनके साथ पूव्र केंद्रीय वित्तमंत्री यशवंत सिन्हा व अन्य कई किसान नेता भी मौजूद थे।

 

Share this
Translate »