Tuesday , September 28 2021
Breaking News

पाक का नापाक हाफिज सनकी, अब बच्चों को बना रहा आतंकी

Share this

नई दिल्ली।  मुंबई आतंकी हमले का मास्टरमाइंड हाफिज सईद के नेतृत्व वाला का प्रतिबंधित जमात-उद-दावा (जेयूडी) अब भारत के खिलाफ एक खौफनाक, निहायती घटिया और सनकीपन वाली मुहिम चलाने जा रहा है जिसके बारे में जान लोगों के रोंगटे खड़े हो जायेगें।

गौरतलब है कि वह अब भारत में आतंकवाद को प्रयोजित करने के लिए बच्चों को प्रशिक्षित कर रहा है।  इसका खुलासा इस्लमबाद से प्रप्त एक तस्वीर से हुआ है। दरअसल यह तस्वीर बंदूक लिए हुए एक बच्चे की है। वह बच्चा कोई और नहीं जेयूडी के नेता सदाकत का बेटा है। उसी के हाथ में बड़ी-सी बंदूक दिख रही है।

इस तस्वीर की प्रामानिकता साबित हो चुकी है। यह तस्वीर इस्लामाबाद में हुए एक कार्यक्रम की बताई जा रही है। आपको बता दूं कि जमात-उल-दावा कोई और नहीं बल्कि हाफिज सईद के नेतृत्व वाले आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का ही हिस्सा है। बच्चे के पीछे जो पोस्टर लगा है उसपर लिखा है कि कश्मीर पाकिस्तान का अभिन्न हिस्सा है और कश्मीर की आजादी के लिए वह सपोर्ट देते रहेंगे।

बताया जाता है कि पाकिस्‍तान बलूचिस्‍तान के लोगों के ऊपर जुल्‍म ढहाने के बाद अब वहां के बच्‍चों को आतंकी बनने की ट्रेनिंग देने में लगा हुआ है। माना जा रहा है कि वह ऐसा करके वहां के बच्‍चों को साथ लेकर आतंकियों की नई ब्रिगेट तैयार कर रहा है। यह खुलासा उत्तरी कश्मीर के बारामुला जिले से गिरफ्तार लश्कर-ए-तैयबा के दो कश्मीरी आतंकियों ने पूछताछ में किया है।

कश्‍मीर के आईजीपी मुनीर खान के मुताबिक पूछताछ में इन आतंकियों ने कई ऐसे खुलासे किए हैं जिनसे पाकिस्‍तान की सरकार और फौज की आतंकियों के साथ मि‍लीभगत और भारत में आतंकी हमले कराने की कारगुजारियों का खुलासा होता है। इन आतंकियों ने पूछताछ में यह भी कबूल किया है कि उन्हें नई दिल्ली स्थित पाकिस्तान के हाई कमीशन ने वीजा मुहैया करवाया था।

खबरों के मुताबिक, जमात बच्चों को अपने साथ जोडऩे के लिए अभियान चलाकर उन्हें भारत के खिलाफ जिहाद फैलाने के लिए उकसा रहा है। इस संगठन  के द्वारा पाकिस्तान में कुछ मदरसे और धार्मिक स्कूल चलाए जा रहा हैं जो छोटे बच्चों का ब्रेनवॉश करते हैं और उसे आतंकवादी बनाकर भारत भेजते हैं। इन बच्चों के मन में अमेरिका के लिए भी नफरत भरी जाती है। यही बच्चे आगे चलकर दुनियाभर में आतंक फैलाते हैं।

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »