Tuesday , January 25 2022
Breaking News

फिर सामने आया हनी ट्रैप का मामला, अश्लील वीडियो बनाकर किया जाता था ब्लैकमेल

Share this

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में काफ़ी समय से चल रहे हनी ट्रैप के एक बड़े खेल खुलासा हुआ है. राजधानी की विभूतिखंड पुलिस ने एक डाक्टर द्वारा दर्ज कराए गये केस पर कार्रवाई करते हुए इस गिरोह का पर्दाफाश किया. यह गिरोह राजधानी के पैसे वाले लोगों को टारगेट करके उनका अश्लील वीडियो बनाता था और बाद में उन्हें ब्लैकमेल कर पैसे वसूलता था. जानकारी के मुताबिक एक डेंटल डॉक्टर ने पुलिस में केस दर्ज कराया था कि कुछ लोगों ने उसे बंधक बनाकर उसे तीस लाख रुपए लूट लिए. केस की पड़ताल कर रही पुलिस जब मामले की तह तक पहुंची तो हनी ट्रैप का मामला सामने आया जिसे देखकर पुलिस दंग रह गई.

धीरे-धीरे जब दोस्ती बढ़ जाती थी तो वह उन्हें अपने किसी अड्डे या फिर होटल में बुलाती थी,जहां गिरोह के अन्य सदस्य पहले से ही कैमरा वगैरह सेट करके रखते थे, फिर वहां महिला सदस्य टारगेट को जाल में फंसाने के बाद उसे शराब पिलाती थी और फिर नशे में उसका अश्लील वीडियो व फोटो बना लेती थी. फिर उन्हें ब्लैकमेल किया जाता था. गिरोह के सदस्य उनके अश्लील वीडियो को सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी दे कर वसूली करते थे. ज्वाइंट सीपी.ने बताया कि गिरोह में दो युवतियों सहित 5 लोग शामिल हैं, जो अधिकारी, डॉक्टर, बड़े कारोबारी व बिल्डर को निशाना बनाते थे. ज्वाइंट सीपी ने बताया कि पुलिस ने इस गिरोह के सचिन रावत और निशा को गिरफ्तार कर लिया है. ज्वाइंट सीपी नीलाब्जा चौधरी के मुताबिक टारगेट को फंसाने के लिए लखनऊ के बाहर की लड़कियां लगाई जाती थी.

Share this
Translate »