Thursday , January 20 2022
Breaking News

किसान आंदोलन के पीछे सीएए-एनआरसी विरोधी ताकतें: स्वतंत्र देव सिंह

Share this

प्रयागराज. कृषि सुधार कानून को लेकर जारी किसानों के आन्दोलन पर बीजेपी उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष स्वतन्त्र देव सिंह ने कहा कि किसानों के आन्दोलन के पीछे सीएए और एनआरसी के आन्दोलन में लगी ताकतें ही षडयंत्र कर रही हैं. 

बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि किसान आन्दोलन के पीछे नक्सलवादी, कम्युनिस्ट और माओवादी शक्तियां लगी हैं, जो किसानों में भ्रम फैलाकर उन्हें गुमराह कर रही हैं. नक्सलवादी, कम्युनिस्ट और माओवादी शक्तियां हमेशा देश के खिलाफ रहती हैं और इन आन्दोलन के पीछे भी उन्हीं की साजिश है.

स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि केन्द्र सरकार की ओर से लागू किया गया कृषि सुधार कानून पूरी तरह से किसानों के हित में हैं. छह माह पहले कृषि सुधार कानून पास हो चुका है. लेकिन, जब-जब चुनाव नजदीक आते हैं, विपक्षी राजनीतिक दल इस तरह के आन्दोलन खड़ा करते हैं.

उन्होंने कहा कि किसानों को अगर समस्या का हल निकालना है तो सरकार बातचीत के लिए तैयार है. बातचीत से ही इस समस्या का हल निकल सकता है, लेकिन अगर उन्हें जबरदस्ती करनी है तो बात दूसरी है. उन्होंने कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव के पहले सीएए और एनआरसी को लेकर आन्दोलन खड़ा किया था, जबकि विपक्षी दल इसी तरह से लोकसभा चुनाव के पहले राफेल सौदे को लेकर बखेड़ा खड़ा कर चुके हैं.

बीजेपी नेता ने कांग्रेस, सपा और बसपा पर किसानों को गुमराह करने का आरोप लगाते हुए उन्हें झूठा बताया है. उन्होंने कहा कि इन्होंने कभी किसानों का हित नहीं देखा, बल्कि हमेशा किसानों को लूटा है. बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि जो लोग हाथरस कांड में थे, वही लोग किसान आन्दोलन को भी हवा दे रहे हैं.

उन्होंने कहा कि कृषि सुधार कानून को कई किसान संगठनों ने समर्थन भी दिया है. जबकि कई किसान संगठन लगातार इसका विरोध कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि सरकार किसानों से बातचीत और समस्या का समाधान करने के लिए हर स्तर पर बातचीत को तैयार है. केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, केन्द्रीय मंत्री पीयूष गोयल और पीएम मोदी भी किसानों की समस्या के समाधान को लेकर हर स्तर पर बातचीत करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं.

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने कहा है कि सपा, बसपा और कांग्रेस के झूठ का इसी तरह से जवाब देते रहेंगे और अपनी विजय सुनिश्चित करते रहेंगे. उन्होंने कहा कि 2022 में प्रदेश में एक बार फिर से पीएम मोदी और सीएम योगी के विकास कार्यों और नीतियों के आधार पर भाजपा भारी बहुमत से जीत हासिल करेगी और सरकार भी बनायेगी.

Share this
Translate »