Friday , January 28 2022
Breaking News

खड़े होकर खाते हैं खाना तो हो जाएं सावधान, सेहत के लिए है खतरनाक

Share this

अगर आप भी खाना खाने में हड़बड़ी करते हैं या जल्दी जल्दी खाने के चक्कर में खड़े खड़े खाना खाते  हैं तो यह आदत आपको परेशानी में डाल सकती है. एक सर्वे में इस बात का खुलासा हुआ है कि खड़े-खड़े खाना आपकी सेहत के लिए नुकसानदायक साबित होता है. यही नहीं अगर आप जल्दी जल्दी खाना खाते हैं तो यह भी आपकी सेहत के लिए अच्छी आदत नहीं है. दरअसल सुबह स्कूल-कॉलेज या ऑफिस जाने की हड़बड़ी घर घर में देखने को मिलती है. देर न हो इसलिए लोग भोजन को समय नहीं दे पाते और जल्दी से ब्रेकफास्ट कर लेते हैं. एक रिसर्च के अनुसार, ऐसा करने पर शरीर की कुछ स्वाद ग्रंथियां काम करना बंद कर देती हैं और शारीरिक और मानसिक तनाव बढ़ जाता है. यही नहीं, खड़े होकर खाने से खाना आसानी से डाइजेस्ट भी नहीं हो पाता और डाइजेशन में कई गुना अधिक समय लग जाता है. जानें क्या है नुकसान-

1.पॉश्चर पर पड़ता है प्रभाव

जब हम खड़े होकर खाना खाते हैं तो बहुत ज्यादा झुकते हैं. ऐसे में खुद को रिलैक्स करने के लिए शरीर के किसी एक हिस्से पर अधिक जोर पड़ता है. ऐसा रोज़ किए जाने पर इसका असर रीढ़ की हड्डी पर पड़ता है और तमाम तरह की समस्याएं शुरू हो जाती है. नीचे बैठकर खाना खाने से बॉडी पॉश्चर को सुधारा जा सकता है.  शोध के मुताबिक, नीचे बैठकर खाने से शरीर में ब्लड सर्कुलेशन भी अच्छा रहता है इससे पीठ की समस्या भी दूर रहती है.

2.पाचन क्रिया हो सकती है खराब

जब हम जल्दी जल्दी खाना खाते हैं तो हमारा डाइजेशन सिस्टम प्रभावित होता है और बॉडी में फैट भी बढ़ने लगता है. फैट बढ़ने से ओबेसिटी की समस्या शुरू हो जाती है. लेकिन अगर आप बैठकर खाना खाते हैं तो ऐसी प्रॉब्लम्स से दूर रहते हैं. खाना आसानी से पचता है और पेट जल्दी भरता भी है. ऐसे में आप वजन बढ़ने पर भी कंट्रोल कर सकते हैं.

3.बढ़ती है एसिडिटी की समस्या

खड़े होकर खाने पर पेट में गैस बनने लगती है. दरअसल जब हम खड़े होकर खाते हैं तो हम जल्दबाजी में खाना खाते हैं. ऐसे में खाना पचाने में दिक्कत आती है औेर पेट में भारीपन, बदहजमी जैसी समस्या शुरू हो जाती है.

4.हार्टरेट को भी करता है प्रभावित

अमेरिका की साउथ फ्लोरिडा यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर दीपायन बिश्वास के नेतृत्व में किए गए शोध में बताया गया कि बॉडी के लोअर पार्ट पर गुरुत्वाकर्षण बल ब्लड को तेजी से खींचता है, जिससे हृदय को रक्त को वापस ऊपर खींचने के लिए ज्यादा तेजी से काम करना पड़ता है और इस प्रक्रिया में हृदयगति बढ़ जाती है.

Share this
Translate »