Thursday , January 20 2022
Breaking News

जॉनसन एंड जॉनसन सनस्क्रीन से कैंसर का खतरा, कंपनी ने वापस बुलायी उत्पाद

Share this

वाशिंगटन. अमेरिकी कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन के कुछ प्रोडक्ट में बेंजीन पाया गया है, जिससे कैंसर का खतरा रहता है. लिहाजा कंपनी ने बुधवार को अपने सनस्क्रीन उत्पादों को बाजार से वापस लेने का फैसला किया है. जब सनस्क्रीन उत्पादों का आंतरिक परीक्षण किया गया, तो इनमें कम मात्रा में बेंजीन होने का पता चला.

वापस मंगाए गए उत्पादों में सभी केन साइज, सन प्रोटेक्शन फैक्टर के सभी लेवल या एसपीएफ शामिल हैं. हैरानी वाली बात ये है कि कंपनी ने कहा कि कोई भी सनस्क्रीन बनाते समय बेंजीन का इस्तेमाल नहीं किया जाता है. इन सनस्क्रीन उत्पादों में अवीनो प्रोटेक्ट + रिफ्रेश एरोसोल सनस्क्रीन और चार न्यूट्रोजेना सनस्क्रीन वर्जन- बीच डिफेंस एरोसेल सनस्क्रीन, कूलड्राय सपोर्ट एरोसोल सनस्क्रीन, इनविजिबल डेली डिफेंस एरोसोल सनस्क्रीन और अल्ट्राशीर एरोसोल सनस्क्रीन शामिल हैं.

रिपोर्ट के अनुसार ये उत्पाद देशभर में रिटेलर्स को दिए गए थे. कंपनी का कहना है कि बेंजीन का पता कंपनी और स्वतंत्र लैब की जांच में चला है. इसके साथ ही ग्राहकों से तुरंत सनस्क्रीन का इस्तेमाल करने को मना किया गया है, लेकिन जिन लोगों ने उत्पाद खरीद लिए हैं, उन्हें पैसा रिफंड कर दिया जाएगा. इन लोगों को पैसे वापस लेने के लिए कंज्यूमर केयर पर फोन करना पड़ेगा.

जॉनसन एंड जॉनसन के प्रवक्ता ने कहा कि जैसे ही हमें इस मामले में सतर्क कराया गया तो हमने फौरन अपने कच्चे माल और निर्माण प्रक्रिया की जांच शुरू कर दी. जिसमे हमने आंतरिक परीक्षण भी किए हैं. बेंजीन एक तरह का ज्वलनशील और व्यापक रूप से इस्तेमाल किया जाने वाला केमिकल है. इससे उच्च स्तर पर बार-बार संपर्क में आने से कैंसर हो सकता है.

इसके पहले जॉनसन एंड जॉनसन के बेबी पाउडर के इस्तेमाल से कैंसर होने का आरोप लग चुका है. ब्रुकलीन की एक महिला और उनके पति ने कंपनी पर आरोप लगाया था कि कंपनी के बेबी पाउडर से कैंसर होने का खतरा है. इसके न्यूयॉर्क स्टेट जज ने कंपनी पर 120 मिलियन डॉलर्स हर्जाना देने का आदेश दिया था.

Share this
Translate »