Monday , September 27 2021
Breaking News

तमाम व्यवस्थाऐं साबित हो रही बौनीं, जब बेटियों के साथ हो हरकतें घिनौनी

Share this
  • देश की राजधानी और सियासत का केन्द्र दिल्ली
  • वहां जब बेटियों के साथ ऐसी घिनौनी हरकतें हों
  • तमाम व्यवस्थाऐं तकरीबन बौनी साबित
  • दिल्ली पुलिस हेडक्वार्टर के बाहर विरोध मार्च

नई दिल्ली। देश की राजधानी और सियासत का केन्द्र दिल्ली जहां प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति समेत तमाम बड़े नेताओं मंत्रियों तथा अफसरों का रिहाइशी ठिकाना हो वहां जब बेटियों के साथ ऐसी घिनौनी हरकतें हों और कारवाई के नाम पर महज खानापूर्ति हो तो तमाम व्यवस्थाऐं तकरीबन बौनी साबित होती नजर आती हैं।

गौरतलब है कि दिल्ली यूनिवर्सिटी के लेडी श्रीराम कॉलेज की एक छात्रा पर स्पर्म भरे गुब्बारे फेंकने की घटना सामने आने के बाद फिर से ऐसा ही एक मामला सामने आया है। जहां अमर कॉलोनी में  बस से जा रही एक DU छात्रा पर मंगलवार शाम को कुछ मनचलों ने सीमन भरे गुब्बारे फेंकें।  इस घटना के बाद से डीयू के जीसस एंड मैरी कॉलेज की छात्राओं व शिक्षकों में गुस्सा हैं। जिसके चलते उन्होंने दिल्ली पुलिस हेडक्वार्टर के बाहर विरोध मार्च निकाला।

हालांकि पीड़ित छात्रा ने अमर कॉलोनी पुलिस स्टेशन में देर रात अपनी शिकायत दर्ज कराई। वहीं अभी तक पहली पीड़ित छात्रा ने अभी तक पुलिस में कोई शिकायत दर्ज नहीं कराई है। लेकिन दोनों मामले सामने आने के बाद पुलिस मामले की जांच कर रही है।

जानकारी के मुताबिक, दक्षिणी-पूर्वी दिल्ली के डीसीपी चिन्मय बिस्वाल ने बताया कि स्थानीय पुलिस के साथ हमने मामले पर जांच शुरू कर दी है। वहीं हम लोग इलाके की ऐसी दुकानों की भी चेकिंग कर रहे हैं जहां 2 इंच से बड़े गुब्बारें बेचे जा रहे हैं।

वहीं मामले को लेकर पीड़ित छात्रा का कहना है कि यह घटना यहां पहली बार नहीं हुई है। जानकारी के मुताबिक, लाजपत नगर और डबल स्टोरी बिल्डिंग में बड़ी संख्यां में कॉलेज गर्ल्स और कामकाजी लड़कियां बतौर पेइंग गेस्ट (PG) रहती हैं। पीड़िता के मुताबिक, हमने चौकी के कॉन्स्टेबल से शिकायत की और कहा कि जिस घर से गुब्बरा फेंका गया है वहां जाकर हमें जांच करनी चाहिए। लेकिन इस पर कॉन्स्टेबल ने कोई एक्शन नहीं लिया।

साथ ही पीड़िता ने बताया कि शाम 6 बजे के करीब मेरे ऊपर सीमन से भरा बलून फेंक गया। मैं तुरंत उस घर की तरफ दौड़ी जहां से गुब्बारा फेंका गया था लेकिन दरवजा लॉक होने के कारण मैं ऊपर तक नहीं जा सकी।  वहीं इलाके की एक अन्य महिला का कहना है कि गाड़ी और बाइक पर सवार कुछ लड़के भी रास्ते में औरतों पर पानी से भरे गुब्बारे फेंकते रहते हैं। हालांकि, ऐसी घटनाओं के सामने आने के बाद पुलिस की गाड़ियां कई बार इलाकों में गश्त लगा रही हैं लेकिन फिर भी देर शाम के बाद ऐसी घटनाएं बढ़ जाती हैं।

 

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »