Monday , October 18 2021
Breaking News

आईपीएल: रविंद्र जडेजा का कमाल, आखिरी गेंद पर केकेआर से जीता चेन्नई, टेबल में टॉप पर पहुंचा

Share this

अबू धाबी. रविंद्र जडेजा ने अपने आक्रामक तेवरों का दिलचस्प नजारा पेश करते हुए रविवार को यहां आठ गेंदों पर 22 रन बनाए जिससे चेन्नई सुपर किंग्स ने कुछ विषम पलों से गुजरने के बाद कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) पर दो विकेट की रोमांचक जीत दर्ज करके इंडियन प्रीमियर लीग में अपना विजय अभियान जारी रखा.

172 का था टारगेट

चेन्नई के सामने 172 रन का लक्ष्य था. फाफ डुप्लेसिस (30 गेंदों पर 44 रन) और रुतुराज गायकवाड़ (28 गेंदों पर 40 रन) ने पहले विकेट के लिये 74 रन जोड़कर उसे अच्छी शुरुआत दिलायी. मोईन अली ने 28 गेंदों पर 32 रन बनाए, लेकिन वह जडेजा थे, जिन्होंने मुश्किल परिस्थितियों में दो चौके और दो छक्के जड़े जिससे चेन्नई ने आठ विकेट खोकर लक्ष्य हासिल किया.

केकेआर ने नियमित अंतराल पर खोए विकेट

केकेआर ने इससे पहले नियमित अंतराल में विकेट गंवाए. उसके शीर्ष क्रम में केवल राहुल त्रिपाठी (33 गेंदों पर 45 रन) ही उपयोगी योगदान दे पाये. नितीश राणा (27 गेंदों पर नाबाद 37) और दिनेश कार्तिक (11 गेंदों पर 26 रन) के प्रयासों से केकेआर ने अंतिम तीन ओवरों में 44 रन जुटाये जिससे टीम ने छह विकेट पर 171 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया.

आखिरी दो ओवर का रोमांच

चेन्नई को अंतिम दो ओवरों में 26 रन की दरकार थी. ऐसे में जडेजा ने प्रसिद्ध कृष्णा के 19वें ओवर की आखिरी चार गेंदों पर दो छक्के और दो चौके लगाये. सुनील नारायण (41 रन देकर तीन) अंतिम ओवर करने आये जिसमें चेन्नई को चार रन चाहिए थे. नारायण ने बेहतरीन गेंदबाजी करके सैम करेन (चार) और जडेजा का आउट कर दिया लेकिन दीपक चाहर विजयी रन लेने में सफल रहे.

टॉप पर पहुंच गया चेन्नई

चेन्नई की यह आईपीएल बहाल होने के बाद लगातार तीसरी जीत है जिससे उसके 10 मैचों में 16 अंक हो गये हैं और वह अंकतालिका में शीर्ष पर पहुंच गया है. केकेआर ने लगातार दो जीत के बाद हार झेली. उसके 10 मैचों में आठ अंक हैं.

ताबड़तोड़ शुरुआत

चेन्नई ने पावरप्ले में बिना किसी नुकसान के 52 रन बनाए. गायकवाड़ और डुप्लेसिस ने गेंदबाजों को हावी नहीं होने दिया. इयोन मोर्गन ने पावरप्ले में चार गेंदबाज आजमाए लेकिन चेन्नई की सलामी जोड़ी ने गेंद को सीमा रेखा तक पहुंचाना जारी रखा. गायकवाड़ की टाइमिंग शानदार थी. उन्होंने नारायण पर दो छक्के जडऩे के बाद आंद्रे रसल का स्वागत भी छह रन से किया लेकिन अगली गेंद उनके बल्ले का किनारा लेकर कवर में कैच में बदल गयी. उन्होंने तीन छक्कों के अलावा दो चौके भी लगाए.

11वें ओवर में 100 रन पूरे

चेन्नई ने 11वें ओवर में 100 का आंकड़ा छुआ. इसमें मोईन का योगदान भी था जिन्होंने लॉकी फर्गुसन पर चौका और छक्का लगाकर हाथ खोले थे. गायकवाड़ की तरह डुप्लेसिस भी अर्धशतक तक नहीं पहुंच पाये. फर्गुसन ने डीप प्वाइंट पर उनका अच्छा कैच लपका. डुप्लेसिस ने सात चौके जमाए.

बढ़ता गया रनगति का दबाव

सुनील नारायण ने अंबाती रायुडु (9) का ऑफ स्टंप थर्राकर चेन्नई को दबाव में ला दिया. रन नहीं बन पाने के दबाव में मोईन ने अपना विकेट गंवा दिया. सुरेश रैना (11) रन आउट हो गए और वरुण चक्रवर्ती ने गुगली पर महेंद्र सिंह धोनी (एक) को बोल्ड करके चेन्नई समर्थकों को निराश कर दिया, लेकिन जडेजा ने पूरे समीकरण बदल दिए.

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »