Tuesday , September 28 2021
Breaking News

बीजेपी मंत्री के दामाद सपा में शामिल

Share this

लखनऊ।  बसपा का साथ छोड़ बीजेपी में शामिल हुए मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या के दामाद डॉ नवलकिशोर आज समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए। इनके अलावा बीएसपी के पूर्व विधायक इरशाद खान, पूर्व एमएलसी प्रदीप सिंह भी सपा में शामिल हुए। इस मौके पर सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव भी मौजूद थे।

इस दौरान अखिलेश यादव ने कहा कि सपा और बसपा के कार्यकर्ताओं को जीत के लिए बधाई देता हूं। सपा-बसपा कार्यकर्ताओं को बूथ स्तर पर भी धन्यवाद देना चाहिए। आने वाले चुनावों में बूथ स्तर तक काम करना है। चुनाव में नतीजे कुछ भी आएं लेकिन मेहनत करनी है। उन्होंने योगी सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि उप चुनाव में हारने के बाद अब मुख्यमंत्री अब विकास की बात करने लगे हैं। उन्होंने कहा कि हार का अच्छा असर हुआ है अब मुख्यमंत्री स्टैंडअप इंडिया, डिजिटल इंडिया और एक्सप्रेसवे की बात कर रहे हैं। ये देखकर अच्छा लग रहा है। विकास से ही सबका भला होगा।

इस दौरान अखिलेश यादव ने बीटीसी के प्रदर्शनकारी अभ्यर्थियों का भी मुद्दा उठाया। उन्होंने कि उन्होंने शुक्रवार को अभ्यर्थियों से मुलाक़ात की। हाईकोर्ट में पूरी नियुक्ति की लिस्ट तैयार है। लेकिन सरकार नियुक्ति पत्र नहीं दे रही है क्योंकि यह भर्तियां सपा कार्यकाल में हुई थी। हालांकि मुझसे अभ्यर्थियों के साथ मुलाक़ात होने के बाद मुख्यमंत्री भी मिले। अखिलेश ने कहा कि मेरे मिलने के बाद मुख्यमंत्री ने भी इनसे मुलाकात की। अगर मेरे मिलने से वो भी मिलते हैं तो लोगों को पहले लोगों को समस्या लेकर मेरे पास आना चाहिए।

आपको बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बीटीसी के 12, 460 अभ्यर्थियों को जल्द ही नियुक्ति पत्र देने के आदेश दिए हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को बेसिक शिक्षा विभाग को एक सफ्ताह में कार्यवाही पूरी करने के निर्देश दिए हैं।

इसके बाद अखिलेश यादव बिजली उत्पादन और सप्लाई को लेकर भी सरकार पर तीखे हमले किए। मुख्यमंत्री को बताना चाहिए कि एक साल में गोरखपुर में कितने सब स्टेशन लगे? प्रदेश में कितना उत्पादन बढ़ा? एक साल में अगर बीजेपी ने एक यूनिट बिजली भी बनाई हो तो बताये। केंद्र सरकार ने यूपी में बिजली कटौती की है। बनारस में हमने ही 24 घंटे बिजली की व्यवस्था की थी। भाजपा नेता ने भूख हड़ताल कर बिजली मांगी और हमने दे दी।

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »