Wednesday , July 6 2022
Breaking News

गैरकानूनी तरीके से कॉल डीटेल्स रिकॉर्ड हासिल करने में अब कंगना रनौत और आयशा श्रॉफ का नाम भी आया सामने

Share this

मुंबई. गैरकानूनी तरीके से कॉल डीटेल्स रिकॉर्ड हासिल करने के मामले में कई बॉलीवुड सेलिब्रिटी के नाम जुड़ते दिख रहे हैं. नई जांच में अभिनेता जैकी श्रॉफ की पत्नी आयशा श्रॉफ और अभिनेत्री कंगना रनौत के भी कथित रूप से रैकेट में शामिल होने और गिरफ्तार वकील रिजवान सिद्दीकी से संपर्क में होने की खबर है.

– बता दें कि रिजवान अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी के वकील हैं, जिन्हें कुछ दिनों पहले ही सीडीआर मामले में गिरफ्तार किया गया है.

– डीसीपी (क्राइम) अभिषेक त्रिमुखे ने नई जांच में इस बात का खुलासा किया.

– उन्होंने कहा, ‘मामले की जांच से कई ऐक्टर्स और बिजनसमैन के चेहरे से पर्दा हटेगा. सिद्दीकी के फोन की जांच के दौरान यह सामने आया कि आयशा श्रॉफ ने भी ऐक्टर साहिल खान के सीडीआर अवैध तरीके से निकलवाए. बाद में सीडीआर संभवत: व्यक्तिगत कारण से रिजवान सिद्दीकी को दे दिए गए. सीडीआर निकलवाने की वजह भी जल्द सामने आएगी.’

– अभिषेक ने यह भी बताया कि उनके पास बॉलीवुड अदाकारा कंगना रनौत के अभिनेता ऋतिक रोशन का नंबर रिजवान से शेयर करने के सबूत भी हैं.

– डीसीपी ने आगे बताया, ‘हमने मोबाइल ऑपरेटर्स के नोडल ऑफिसर्स को अधिक जानकारी देने के लिए कहा है.’ उन्होंने आयशा को समन भेजा है और बुधवार को उनकी व कई लोगों की पेशी होनी है.

– डीसीपी के अनुसार, ‘सिद्दीकी ने पूछताछ में बताया कि वह गिरफ्त में लिए गए मैगनम एजेंसी के प्राइवेट जासूस प्रशांत पालेकर को पिछले 6 महीने से जानता है लेकिन हमने पाया है कि दोनों 2014 से एक-दूसरे के संपर्क में हैं. पुलिस को यह भी संदेह है कि ऐडवोकेट लंबे समय से सीडीआर की अवैध सोर्सिंग में संलिप्त है. हो सकता है कि उसने वाट्सऐप चैट डिलीट कर दी हो.

– अधिकारी ने कहा कि रिजवान के लैपटॉप की जांच से यह भी पता चला कि उसे वारंगल के मुख्य न्यायिक मैजिस्ट्रेट द्वारा धोखाधड़ी और साजिश मामले में समन किया जा चुका है और हमें कुछ कानूनी दस्तावेज भी मिले हैं. सीडीआर मामले में गिरफ्तार वकील रिजवान सिद्दीकी की मुसीबत कम नहीं हो रही है.

– मंगलवार को एक मॉडल-अभिनेत्री ने रिजवान के खिलाफ ठाणे पुलिस से शिकायत की. सोमवार को तेलुगू फिल्म अभिनेत्री आकृति उर्फ आरती नागपाल ने उसके सीडीआर निकालने की शिकायत ठाणे पुलिस से की थी.

Share this
Translate »