Friday , September 17 2021
Breaking News

Salute: मां हूं मगर ऐसी भी मुहोब्बत नही, जो मुल्क के खिलाफ हो ऐसे बेटे की जरूरत नही

Share this

नई दिल्ली। एक मां का दर्द तो फिर एक मां ही बेहतर समझ सकती है और ऐसा ही हुआ भी और एक मां ने भारत मां का दर्द न सिर्फ बखूबी समझा बल्कि अपनी ममता का गला घोंटते हुए भारत मां के खिलाफ खड़े होने वाले अपने ही बेटे के खिलाफ खड़े होते हुए उसके खिलाफ FIR करवाते हुए साफ लफ्जों में उससे हर रिश्ता तोड़ने की दुहाई दे डाली। ऐसी मां को हर देशवासी को दिल से सलाम करना चाहिए और तहे दिल से उनका ऐहतराम करना चाहिए।

दरअसल यह मामला असम के एक युवक कमर उज जमां का है जहां होजाई जिला के जामुनमुख निवासी कुमर-उज-जमां की तस्वीरें सोशल मीडिया पर फैलने के बाद प्रशासन सक्रिय हो गया।  साथ ही उसके  जम्मू एवं कश्मीर के आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन में शामिल होने की खबर आने के बाद पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू कर दी है।

वहीं सबसे अहम और गौर करने वाली बात यह है कि  आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन में शामिल होने की खबर के बाद उसके परिवार वालों ने भी उससे नाता तोड़ लिया है। यहां तक की उसकी मां शाहिरा खातून ने कहा है कि अगर वह सचमुच आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन में शामिल हो चुका है तो सरकार जो भी चाहे उसके साथ सुलूक कर सकती है।

इतना ही नही उसकी मां खातून ने यह भी कहा कि वह अपने बेटे के मृत शरीर को भी नहीं अपनाएगी। उसने कहा कि वह राष्ट्र के साथ है। उज जमां की मां ने शाहिरा खातून ने कहा कि जुलाई 2017 के बाद से ही उसके बारे में कोई सूचना नहीं है। हमारा उससे कोई संपर्क नहीं हो सका है। उन्होंने कहा कि अगर मेरा बेटा  ऐसी किसी भी संस्था से जुड़ा है तो सरकार उसे गोली मार सकती है। मुझे ऐसे बेटे की जरूरत नहीं है।

ज्ञात हो कि पिछले दिनों उज जमा कि पिछले दिनों राइफल हाथ में लिए एक फोटो वायरल हुई थी। उज जमा के परिवार वालों ने उसे पहचान लिया है।परिवार वालों ने एफआईआर भी दर्ज की है। उज्मा असम के होजाई जिले का रहने वाला है और उसका किश्तवार में व्यवसाय है।

जबकि असम पुलिस ने जम्मू-कश्मीर पुलिस से रिपोर्ट मांगी है कि पूर्वोत्तर राज्य का वह युवा जिसने घाटी के आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन में शामिल हो गया है। असम के डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस मुकेश ने बताया कि असम पुलिस जम्मू कश्मीर पुलिस के साथ मिलकर जांच कर रही है। उन्होंने बताया कि वह काम पर गया था लेकिन घर नहीं पहुंचा था। हम उसकी जांच कर रहे हैं।

 

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »