Monday , November 29 2021
Breaking News

विधान परिषद: बसपा प्रत्याशी अंबेडकर ने किया नामांकन दाखिल

Share this

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधान परिषद के खाली 13 सीटों पर होने वाले द्विवार्षिक चुनाव के लिए आज नामांकन प्रक्रिया शुरू हो गई है। विधान परिषद की 13 सीटों पर होने वाले चुनाव के संबंध में अधिसूचना बुधवार जारी की गई थी। इसी कड़ी में बेहद अहम और दिलचस्प बात है कि हाल के राज्य सभा चुनाव में जोर आजमा चुके बसपा प्रत्याशी भीमराव अम्बेडकर अब विधान परिषद की सीट पर बसपा की तरफ से जोर आजमाइश करेगें। जिसके तहत आज उन्होंने विधान परिषद चुनाव के लिए नामांकन किया। इस मौके पर बसपा महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा समेत अन्य नेता भी मौजूद रहे।

वहीं इस दौरान नामांकन के बाद सतीश चंद्र मिश्रा ने भीमराव अंबेडकर को एमएलसी पद का प्रत्याशी बनाने के लिए पार्टी सुप्रीमो मायावती को धन्यवाद कहा। उन्होंने कहा बसपा का समर्थन समाजवादी पार्टी करेगी और उसके सहयोग से ही पार्टी प्रत्याशी सदन पहुंचेगा। उन्होंने कहा कि राज्य सभा वाली स्थिति इस बार नहीं होगी। अगर बीजेपी अतिरिक्त  प्रत्याशी खड़ा करती है तब भी कोई समस्या नहीं है, क्योंकि जीत की संख्या हमारे पास है। पिछली बार जेल में बंद विधायक वोट नहीं डाल पाए थे, जिसकी वजह से हार हुई थी।
गौरतलब है कि विधान परिषद चुनाव के लिए समाजवादी पार्टी ने अपने बचे वोट बसपा को ट्रांसफर करने फैसला किया है। इससे पहले अंबेडकर ने राज्य सभा चुनाव के लिए भी नामांकन किया था। सपा के समर्थन के बावजूद वह बीजेपी के अनिल अग्रवाल से हार गए थे।

सतीश चंद्र मिश्रा ने कि बीजेपी को भीमराव अंबेडकर नाम से दिक्कत थी और पार्टी ने सत्ता पक्ष का पूरा बल लगाकर उनको हराने की कोशिश की। उन्होंने भीमराव आंबेडकर को हारने के लिए सारे बलों का प्रयोग किया, लेकिन इस बार भीमराव अंबेडकर को कोई भी बल लगा लें, लेकिन हरा नहीं पाएंगे।

ज्ञात हो कि उत्तर प्रदेश विधान परिषद की 13 सीटों पर चुनाव के लिए सोमवार को अधिसूचना जारी की गई। इसके साथ ही नामांकन दाखिल करने का सिलसिला शुरू हो गया। नामांकन दाखिल करने की अंतिम तिथि 16 अप्रैल है। 17 अप्रैल को नामांकन पत्रों की जांच होगी और 19 अप्रैल तक नाम वापस लिए जा सकेंगे। 26 अप्रैल को सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक मतदान होगा। उसी शाम 5 बजे से मतगणना शुरू होगी और परिणाम घोषित किए जाएंगे।

Share this
Translate »