Monday , October 3 2022
Breaking News

भारत डब्ल्यूईएफ पर बीस साल बाद

Share this

नई दिल्ली! प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 23 जनवरी को स्विटजरलैंड के दावोस में विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) की वार्षिक बैठक के उद्घाटन सत्र को संबोधित करेंगे और वित्त मंत्री अरुण जेटली सहित मोदी सरकार के दस प्रमुख मंत्री इसमें भाग लेंगे।  केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने ने जानकारी देते हुए कहा कि 20 साल के बाद किसी भारतीय प्रधानमंत्री को इस बैठक के लिए आमंत्रित किया गया है।

इस सत्र में 60 देशों के राष्ट्राध्यक्षों सहित 350 राजनेता, दुनिया की प्रमुख कंपनियों के शीर्ष प्रबंधन और समाज के विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े दुनिया भर के एक हजार से अधिक प्रतिनिधि भाग ले रहे हैं। उन्होंने बताया कि श्री मोदी चार दिवसीय बैठक के उद्घाटन सत्र को 23 जनवरी को संबोधित करेंगे। इससे पहले 22 जनवरी को औद्योगिक नीति एवं संवर्धन विभाग (डीआईपीपी) द्वारा आयोजित  रात्रि भोज में शामिल होंगे और दुनिया के आए प्रतिनिधियों के साथ चर्चा करेंगे। इस दौरान प्रधानमंत्री दुनिया के प्रमुख नेताओं से भी मुलाकात करेंगे। इसके बाद वह डब्ल्यूईएफ की सहायक इकाई इंटरनेशनल बिजेनस काउंसिल को संबोधित करेंगे।

दुनिया की 120 बड़ी कंपनियों के प्रमुख काउंसिल के सदस्य हैं। इसमें रेल मंत्री पीयूष गोयल, तेल एवं प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान, प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह और विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर भी शिरकत करेंगे। बैठक में 25 अलग-अलग सत्रों में ये मंत्री भाग लेंगे। आंध्र प्रदेश के मुख्य मंत्री एन चंद्रबाबू नायडू और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडनवीस भी इसमें हिस्सा लेंगे। इसके अतिरिक्त कई राज्यों के मंत्रियों के भी इसमें शामिल होने की संभावना है। इस दौरान इनवेस्ट इंडिया और भारतीय उद्योग परिसंघ द्वारा 11 गोलमेज बैठकें आयोजित की जाएंगी।

 

Share this
Translate »